Complaint against DFO at Ramnagar police station, farmers upset with behavior

गोंडउमरी (सं). फसल कर्ज लेने वाले तथा नियमित कर्ज भरने वाले किसानों के बैंक खाते में अभी तक कर्जमाफी की रकम नहीं जमा की गई है. सत्ता पर काबिज महाविकास आघाड़ी ने प्रामाणिक रूप से कर्ज भरने वाले किसानों को 50 हजार रुपए तक की कर्ज माफी देने की घोषणा की. सरकार ने किसानों को खाते जमा करने की घोषणा की थी. किंतु कुछ ही किसानों को इसका लाभ मिलने की बात कही जा रही है. ज्यादातर किसानों को सरकारी योजना का लाभ नहीं मिलने के कारण कहा जा रहा है कि योजना तो सिर्फ कुछ लोगों को मदद देने अस्तित्व में लायी गई थी.