Representational Pic
Representational Pic

लाखनी (का). कोविड केयर केंद्र के प्रत्येक शिक्षक, शिक्षकेत्तर कर्मचारी, नोडल अधिकारीतथा अन्य कर्मचारियों को 50 लाख रूपए बीमा सुरक्षा कवच दिया जाए, उनकी सेवा राष्ट्रीय सेवा है, उनकी सेवा पुस्तिका पर इस बात उल्लेख करते हुए उन्हैं प्रमाण पत्र दिया जाए, ऐसी मांग जिला परिषद पिछड़ा वर्ग शिक्षा संगठन के अध्यक्ष तथा कोविड केयर सेंटर के नोडल अधिकारी प्रा. युवराज खोब्रागडे ने की है. भंडारा जिले में चार हजार के अधिक कोरोनो के सक्रीय मरीज हैं, और अब तक 96 लोगों की मौत हो गई है.

कोविड मरीजों की सेवा में लगातार कार्यरत शिक्षक, शिक्षकेतर कर्मचारी, नोडल अधिकारी, चिकित्साधिकारी, कर्मचारी, भोजन वितरण तथा अन्य जिम्मेदारी को सफलता पूर्वक अपनी सेवाएं दे रहे हैं, उन सभी को प्रमाण-पत्र दिया जाए. लाखनी के गांधी विद्यालय में कोविड़ केयर सेंटर का निर्माण किया गया है.

लाखनी तहसील के कोरोना पॉजिटिव मरीजों को इस केंद्र में भर्ती की गई है. इस केंद्र पर अब तक अनेक नोडल अधिकारी, शिक्षकेतर कर्मचारी, चिकित्साथिकारी, कर्मचारी, सफाई कर्मचारी समेत अन्य सुख- सुविधाएं दी हैं. इस केंद्र में तीन चरणों में सेवाएं देने का काम जारी है.