बढ़ा बिजली बिल का न करें भुगतान

  • रिपब्लिकन पैंथर का नागरिकों से आह्वान

भंडारा. लॉकडाउन कालावधि में आए बढ़े हुए बिजली बिल का भुगतान न करने की अपील रिपब्लिकन पैंथर के प्रदेशाध्यक्ष प्रो. तेजपाल मोरे ने की है. बढ़े बिजली बिल में रियायत देने संबंधी प्रस्ताव ऊर्जा विभाग ने मुख्यमंत्री उद्धव  ठाकरे के पास भेजा था. इसके आधार पर ऊर्जा मंत्री नितीन राऊत ने बार-बार यही कहा कि बढ़ा हुआ बिजली बिल कम किया जाएगा, लेकिन ऊर्जा मंत्री के कहने पर भी बिल में कोई रियायत नहीं दी गई. इस प्रस्ताव को मंत्रिमंडल में चर्चा में लाए जाने के बाद वित्त विभाग ने बिजली बिल कम करने में असमर्थतता व्यक्त की गई.

बैठक में ही बढ़े हुए बिजली बिल में छूट देने के लिए केंद्र सरकार की ओर से राज्य को आर्थिक मदद की जाए, इस तरह के प्रस्ताव पर केंद्र सरकार की ओर से अब तक कोई ध्यान नहीं दिया गया. केंद्र सरकार की ओर से इस मसले पर कोई ध्यान  न दिए जाने के कारण उक्त धनराशि का भुगतान उपभोक्ताओं से ही करने का निर्णय लिया गया. राज्य तथा केंद्र सरकार दोनों ने जनता को कोरोना काल में उनकी हालत पर छोड़ दिया. लॉकडाउन में रोजगार, व्यापार, नौकरी सब कुछ हाथ से चला गया. इस बारे में सरकार ने जो उदासीनता दिखायी, उससे लोगों में भयंकर रोष व्याप्त है.

सरकार ने बिजली बिले के मुद्दे पर ग्राहकों के साथ धोखाधड़ी की है, इसके लिए जनता बढ़ा हुआ बिजली बिल का भुगतान न करें, ऐसा आह्वान रिपब्लिकन पैंथर संगठन के प्रदेशाध्यक्ष प्रा. तेजपाल मोरे ने किया है.