Shiv Sena

मोहाड़ी. शिवसेना तहसील मोहाड़ी की ओर से तहसील प्रमुख अनिल सार्वे के नेतृत्व में तहसीलदार देवदास बोंबूर्डे के माध्यम से उर्जामंत्री नितिन राऊत को निवेदन सौंपा गया. निवेदन में तहसील में लॉकडाउन के कार्यकाल का बिजली बिल माफ करने की मांग की गई.

सभी हैँ परेशान
संपूर्ण वश्वि में कोरोना महामारी ने परेशान कर रखा है. कई लोगों की नौकरियां चली गई हैं. मजदूर परिवार 3 महीनों से घर में बैठा है. किसान, छोटे व्यावसायी, मध्यमवर्गीय सभी पर भुखमरी की नौबत आ गई है. ऐसी स्थिति में महाराष्ट्र सरकार ने मकान मालिकों से अपील की है कि लोगों की ओर से मकान किराया नहीं लिया जाए, बैंकों को भी आदेश दिया कि इस कार्यकाल में कर्ज की किश्त नहीं लें. अन्य फायनान्स कंपनियों को भी ऐसा आदेश दिया गया है. ग्रापं. से लेकर महानगरपालिका तक नागरिकों को राहत देने के लिए कहा गया है. 

छूट रहा पशीना
महावितरण को आदेश दिया गया कि 3 महिने तक किसी को भी बिजली बिल नहीं भेजें. भरी बारिश के दिनों में ज्यादा बिजली बिलों के कारण जनता का पसीना छूट गया है. औसत से अधिक बिजली बिल, कर्मचारियों का वर्क फार्म होम, महावितरण का नुकसान आदि कारणों से बिजली बिल में वृद्धि करने का काम महावितरण द्वारा हो रहा है. सरकार ने महावितरण द्वारा प्रतिमाह 200 रु. के अनुसार बिजली बिल लगाकर जनता को 3 महीने के बिजली बिल में राहत देने की मांग की गई है. 

इस अवसर पर शिवसेना तहसील प्रमुख अनिल सार्वें के नेतृत्व में वंचित आघाड़ी के नेता विजय शहारे, डा. हेमंत राहांगडाले, मधुकर बुरडे, गोवर्धन मारवाडे, प्रविण गायधने, राजेश बुराडे, शिवशंकर द्रुगकर, सुधाकर हारगुडे, बालू बांडेबुचे, प्रणय चव्हाण, नरेश कारेमोरे, टीकाराम निमजे, कैलाश कनपटे, संजय निनावे आदि पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे.