नियमित कर्जवापसी करने वाले किसान कर रहे अनुदान की प्रतीक्षा

  • कर्जमाफी को लेकर संभ्रम की स्थिति
  • बैंक से नहीं दी जाती विस्तार से जानकारी

भंडारा. महात्मा फुले किसान कर्जमुक्ति योजना के अंतर्गत फसल कर्ज की नियमित वापसी करने वाले किसानों को पचास हजार की प्रोत्साहन धनराशि पर अनुदान देने का निर्णय राज्य सरकार की ओर से लिया गया था. लेकिन अभी तक बहुत से ऐसे किसान हैं जिन्हें अभी तक अनुदान राशि नहीं मिली है.

नियमित कर्ज वापसी करने वाले किसानों (दो लाख से कम कर्ज लेने वाले) को कर्जमाफी के साथ-साथ पचास हजार की प्रोत्साहन राशि समेत अनुदान राशि तत्काल किसानों के खाते में डालने की मांग खरबी नाका के उप सरपंच संजय आकरे ने की है. अप्रैल, 2020 तक यह अनुदान राशि किसानों के खातों में डाली जाने वाली थी, लेकिन नवंबर माह की 22 तारीख बीतने तक उक्त धनराशि किसानों के खाते में नहीं डाली गई.

जिले में नियमित कर्ज वापसी करने वाले किसान इस प्रोत्साहन अनुदान धनराशि की प्रतीक्षा में अभी- भी है, उनकी यह प्रतीक्षा कब पूरी होगी, इसके बारे में यकीन के साथ कोई कुछ भी कहने की स्थिति में नहीं है.