Birth Certificate
Representational Pic

दिघोरी (मोठी). जन्म प्रमाण पत्र लेने के लिए मई माह में ऑनलाइन आवेदन करने को बाद भी चार माह बाद जन्म प्रमाण पत्र मिलने की जानकारी सामने आई है. चार माह का समय लेने के बाद भी जन्म प्रमाण पत्र में त्रुटि होने से ऑनलाइन आवेदनकर्ता ने नाराजगी जतायी है. दिघोरी मोठी ग्राम पंचायत के अतंर्गत घटित इस घटना के बाद ग्राम विकास अधिकारी के खिलाफ रोष व्यक्त किया जा रहा है.

मिली जानकारी के अनुसार दिघोरी (मोठी) के विजय निमजे नामक व्यक्ति ने 4 मई को यहां की ग्राम पंचायत में कार्यालय में जन्म प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था. लेकिन ग्राम विकास अधिकारी ने चार माह तक जन्म प्रमाण पत्र टालमटोल किया.

आवेदन पत्र दाखिल करने के कई दिन बीत जाने के बाद ग्राम विकास अधिकारी की ओर से जो प्रमाण-पत्र दिया गया, उसमें त्रुटि है. बार–बार निवेदन करने के बाद भी जब विकास अधिकारी ने प्रमाण-पत्र नहीं दिया तो परेशान आवेदनकर्ता ने लाखांदुर के विडियो के पास जानकारी देकर जन्म प्रमाण पत्र दिलवाने का आग्रह किया. इसके बाद 16 सितंबर, 2020 को यहां के ग्राहक कार्यालय में स्पीड पोस्ट से उक्त प्रमाण आया, जिसमें गलती होने से आवेदनकर्ता का गुस्सा सातवें स्थान पर पहुंच गया.