suspended,

लाखांदूर. सरकार के समर्थनमूल्य धान खरीदी केंद्र पर ग्रेडर के रूप में कार्यरत रहते अपना मनमाना कारभार चलाते हुए व्यापारियों को झुकता माफ देनेवाले ग्रेडर के खिलाफ परिसर के किसानों ने जिला प्रशासन की ओर शिकायत की थी. शिकायत के अनुसार जिला प्रशासन के आदेश से विवादित ग्रेडर को निलंबित कर दिया गया है.

पारित हुआ था प्रस्ताव
यह निलंबन 3 वर्ष के लिए है. ऐसा प्रस्ताव पिछले 15 जून को विजयलक्ष्मी राइस मिल के निदेशक मंडल द्वारा पारित किया गया है. निलंबित हुआ ग्रेडर कुडेगांव निवासी धनराज पाऊलझगड़े है. प्राप्त जानकारी अनुसार इस मामले में निलंबित ग्रेडर लाखांदूर तहसील के बारव्हा के समर्थनमूल्य धान खरीदी केंद्र पर कार्यरत था. 

लगे थे कई आरोप
इस केंद्र के तहत इस वर्ष के ग्रीष्मकालीन धान खरीदी के दौरान कुछ मर्जी के किसान एवं व्यापारियों की बिना टोकन धान की खरीदी करने, किसानों को सातबारा नहीं होने के बावजूद भी खरीदी करने, खरीदी किए धान का ऑनलाइन पंजीयन नहीं करने, अधिकतम आर्द्रता के साथ अनाज की खरीदी करने, धान खरीदी का सरकार का रिकार्ड अपडेट नहीं रखने एवं जांच के दौरान प्रशासन को सहयोग नहीं करने के आरोप के तहत जिला पणन अधिकारी के आदेश पर दी विजयलक्ष्मी राइस मिल सहकारी संस्था के संचालक मंडल ने पिछले 15 जून को आयोजित मासिक सभा में प्रस्ताव पारित कर 3 वर्ष के लिए निलंबन की कार्रवाई की है. इस कार्रवाई की वजह से बारव्हा परिसर के किसानों में संतोष व्यक्त किया जा रहा है.