bhandara

  • किसानों को ढ़ाई लाख रुपए का नुकसान .सरांडी(बू.) की घटना

लाखांदूर (सं). खेत में लगी धान की फसल  कटायी योग्य हो गई है.  खेतों में धान का कड़पा फैला रहते समय दो दिन पहले आए वापसी की जोरदार वर्षा की वजह से पांच एकड़ धान की फसल बर्बाद हो गई है.  लाखांदूर तहसील के सरांडी(बू.)में धान के किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है. वापसी की वर्षा के कारण यहां के किसानों को ढ़ाई लाख रूपए का नुकसान हुआ है. अरुण नागो मातेरे (50) रा. सरांडी (बू) यह पिडीत किसानों का नाम है. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बार खरीफ  की फसल हाथ से जाने के कारण किसानों के मालिकाना हक के पांच एकड़ शेत कृषि जमीन पर धान की फसल लगायी थी.

इस धान को काचते समय धान पर कड़पा रोग फैलने की बात सामने आयी.  10 अक्टूबर को इस क्षेत्र में वापसी की जोरदार वर्षा आई. इस वर्षा के कारण खेतों में भारी प्रमाण में पानी जमा होने के कारण धान की फसल पानी में चली गई. वापसी वर्षा से क्षतिग्रस्त धान की फसल के नुकसान के बारे में पता करके, पंचनामे करके नुकसान भरपाई दिलाने की कोशिश की जाए,   ऐसी मांग भी पिड़ित किसानों ने की है.