Flood, Bhandara
File Photo

    लाखांदूर. चुलबंद और वैनगंगा नदी के घिरे में बैठे आवली गाव हर वर्ष बाढ़ से प्रभावित होने के कारण 50 वर्ष पुर्व इस गाव को सरकार द्वारा पुनर्वास किया गया. लेकीन पुनर्वसीत जमीन पर सरकार द्वारा उपलब्ध विभिन्न असुविधाओं के कारण ग्रामीणों द्वारा स्थानांतरण नहीं किया गया. इस हालात में इस वर्ष के बारिश के दौरान नदी के घिरे में बैठे आवली गाव के ग्रामीणों से बाढ़ की स्थिती में निर्माण विभिन्न आपदाओं से बचने के लिए आवली वासियों को पुनर्वसीत जमीन पर स्थानांतरीत होने की नोटिस राजस्व प्रशासन के तहत पटवारी द्वारा दी गई है.

    बाढ़ में आवली गाव को बेट का स्वरुप 

    चुलबंद और वैनगंगा नदी के घिरे में बैठे आवली गाव को हर वर्ष बेट का स्वरुप प्राप्त होता है. जिससे इस गाव के नागरिकों का अन्य गावों से संपर्क टूट जाता है. इस स्थिती को देखकर पिछले 50 वर्ष पुर्व सरकारने इस गाव का तहसील के इंदोरा में पुनर्वास किया है. लेकीन पुनर्वास के तहत ग्रामीणों को उपलब्ध किए गए अपर्याप्त सुविधाओं के कारण स्थानीय ग्रामिनों ने स्थानांतरण नहीं करने का आरोप लगाया गया है.

    बारिश में नदी के बाढ़ से होती है यातायात 

    नदी के घिरे में बैठे आवली के नागरिकों को बारिश के दिनों में अत्यावश्यक सुविधा सहित शिक्षा की सुविधा  उपलब्ध करने के लिए नदी में आए बाढ़ के पानी से यातायात करनी पडती है. इस यातायात के लिए ग्रामीणों द्वारा नाव का उपयोग किया जाता है. लेकीन बाढ़ भरी नदी से नाव द्वारा होनेवाली यातायात के दौरान दुर्घटना की संभावना में स्थानीय नागरिकों में डर का माहौल देखे  जाने की चर्चा है.

    बाइक से पहुंचे थे जिलाधिकारी 

    नदियों के घिरे में बैठे आवली गाव के ग्रामीणों से बाढ़ की पृष्ठभुमी पर आवश्यक उपाय योजनाओं के बारें में चर्चा करने के लिए भेंट के दौरान भंडारा जिलाधिकारी इस गाव में बाइक से पहुंचे थे. इस दौरान जिलाधिकारी ने गाव में पिने की पानी की सुविधा सहीत शिक्षा एवं अन्य सुविधाओं की जांच कर बाढ़ स्थिती में आवश्यक उपाय योजनाओं के संदर्भ में ग्रामीणों से चर्चा की थी.

    लगभग 150 परिवारों को बजाए गए नोटिस 

    नदियों के घिरे में बैठे आवली गाव को बारिश में बाढ़ के कारण बेट का स्वरुप प्राप्त हो जाता है. इस हालात में स्थानीय ग्रामीणों सहित अन्य प्रशासन का संपर्क टूटने से इस गाव में बाढ़ की स्थिती में आवश्यक उपाय योजना उपलब्ध करने में प्रशासन को बडी समस्या ऊठानी पडती है. इस वर्ष के बारिश में बाढ़ की स्थिती उत्पन्न होने पर ग्रामीणों को आवश्यक सुविधा उपलब्ध होने में परेशानी और समस्या ऊठानी नहीं पडे इसलिए बारिश पुर्व इस गाव के लगभग 150 परिवारों को स्थानांतरण की नोटिस जारी किए गए है.

    बारिश के मुह पर नोटिस मिलने से खलबली 

    पटवारी द्वारा पुनर्वास के तहत तहसील के आवली के ग्रामीणों को बारिश के मुंह पर स्थानांतरण के नोटिस जारी किए जाने से स्थानीय नागरिकों में खलबली देखी जा रही है. हालांकि इस नोटिस के अनुसार स्थानांतरण के तहत पुनर्वसीत जमीन पर पर्याप्त सुविधा उपलब्ध नहीं होने से पटवारी द्वारा नोटिस जारी होने के बावजुद नागरिकों में स्थानांतरण का विरोध किया जा रहा है.