वंचितों को निःशुल्क शिक्षा देना वाला उपक्रम

साकोली (सं). यहां के कटकवार विद्यालय के पूर्व विद्यार्थी पिछले दो माह से जमनापुर गांव में स्वयंसेवी शिक्षा के माध्यम से वंचितों को निशुल्क शिक्षा देने वाला उपक्रम संचालित किया जा रहा है. कोरोना के कारण सभी स्कूल-कॉलेज बंद हैं. विद्यार्थियों की पढ़ाई नहीं हो पा रही है. जिन विद्यार्थियों को पास इंटरनेट जैसी सुविधा नहीं है, उनके लिए गांव में पढ़ाई की व्यवस्था की गई है. लॉकडाउन के दौरान विद्यार्थियों को मॉस्क, सैनेटाइजर, सेफ्टी किट, क्लास रूम की व्यवस्था की गई तथा कोरोना से बचने के सभी उपायों को अमल में लाया.

इस उपक्रम के लिए अंकित शहारे, धनश्री टिकेकर, आकांक्षा जांभुलकर, आंचल देशमुख, तेजश्री टिकेकर, सौरभ घोरमारे ने अह्म योगदान दिया. गांव के मंदिर के हाल में पढ़ाने की व्यवस्था की गई है. अंकित सहारे ने इस उपक्रम के बारे में बताया कि लॉकडाउन में कटकवार विद्यालय के शिक्षकों से प्रेरणा लेकर हमने कक्षाएं शुरु कीं. क्रीड़ा संगठक शाहीद कुरैशी तथा पूर्व विद्यार्थी आकाश लिटवार ने  इन विद्यार्थियों के उपक्रम की दखल लेते हुए नेकी फाउंडेशन की ओर से विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र दिए गए.