Giving away the lure of marriage, Toli is active in Sihora

सिहोरा. पर प्रांतीय युवकों को विवाह का प्रलोभन देकर लूटने वाली टोली के यहां होने का समाचार मिला है. यह टोली परप्रांतीय युवक की शादी कराने के बाद विवाहित युवती को भगाकर ले जाती थी. इस तरह की हरकत करने वाली यह अकेली टोली नहीं है. इस तरह की घटना के अंजाम देने वाली टीम सिहोरा में सक्रिय है. 

सिहोरा में 25 से 30 वर्ष के लोगों का एक ग्रुप है. यह ग्रुप प्रांतीय युवकों तथा युवतियों के विवाह के बारे में जानकारी देने का प्रचार करते हैं. ग्रुप की एक लड़की को सामने लाकर उससे शादी कराने के लिए पैसों  मांग की जाती है. शादी होने के बाद जैसे ही सामने का व्यक्ति पैसा देता है, ग्रुप से लोग ही लड़की को भगा ले जाते हैं. यह हरकत हर दिन की जा रही है. इस कार्य के लिए तुमसर के एक वाहन को भी प्रयोग में लाया जा रहा है.

एक परिवार को दिया प्रलोभन
बताया जा रहा है कि मध्यप्रेश के नरसिंहपुर तहसील के एक परिवार को विवाह कराने का प्रलोभन दिया गया और उनसे संपर्क किया गया. विवाह योग्य लड़की हो तो बताइए. हमारे पास विवाह योग्य लड़की है और उससे विवाह करने के लिए 1 लाख, 30 रूपए की मांग की गई. तय तिथि पर टोली का सूत्रधार लड़की के पास बुलंद शहर गया. धनराशि लेने के बाद तय की लड़की के साथ विवाह भी कराया गया और उसी रात लड़की का अपहरण किया गया. जिस परिवार के साथ धोखाधड़ी की गई उसने एक अन्य व्यक्ति के माध्यम से टोली के व्यक्ति से संपर्क स्थापित किया था. तुमसर के युवक-युवती किराये के वाहन से संबंधित स्थान पर पहुंचे, जहां लोगों ने उन दोनों को पकड़कर मध्य प्रदेश पुलिस के हवाले किया.