Learn about the teachings of Guru Nanak Dev

साकोली. स्थानीय लाखांदूर रोड पर स्थित सिंधी धर्मशाला में गुरुपर्व गुरुनानक देवजी की 551 वीं जयंती पर सोमवार को सुबह 10 बजे से भजन कीर्तन के बाद भोग साहब के बाद प्रसाद वितरण किया गया. पूज्य सिंधी पंचायत के अध्यक्ष बलराम गिडलानी, उपाध्यक्ष डा. राजेश चंदवानी, सचिव प्रताप चुघ के मार्गदर्शन में पूज्य सिंधी पंचायत तथा नवयुवक सेवा मंडल के युवक तथा महिलाओं ने सफलता के लिए प्रयास किया.

कोरोना संक्रमण का असर

साकोली व लाखनी में इस वर्ष गुरुपर्व गुरुनानक जयंती कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रवाह को देखते हुए शांतीप्रिय सिंधी समाज की ओर से अत्यंत सादगी के साथ मनाने का निश्चित किया गया था. सभी कार्यक्रम रद्द किए गए थे. था सुबह के कार्यक्रम में सभी को मास्क पहनकर, सोशल डिस्टंस रखने का आह्वान डा. राजेश चंदवानी, लाखनी पूज्य सिंधी पंचायत के अध्यक्ष अनिल टहिल्यानी ने किया था.

लाखनी में भी आयोजन 

लाखनी के गुरुद्वारा में गुरुपर्व कोरोना संक्रमण के चलते सादगी के साथ मनाया गया. सुबह भजन कीर्तन के बाद भोग साहब के बाद प्रसाद वितरण किया गया. सफलतार्थ पूज्य सिंधी पंचायत लाखनी के अध्यक्ष अनिल टहिल्यानी, उपाध्यक्ष परमानंद बजाज, सचिव विजय गुरूनानी, सहसचिव दिलीप सचदेव के मार्गदर्शन में पूज्य सिंधी पंचायत लाखनी, अमृता वेला ट्रस्ट समिति के युवक, महिलाओं ने प्रयास किया.

व्यापार रहा बंद 

भले ही इस बार कोरोना संक्रमण के चलते सभी कार्यक्रम रद्द किए गए थे. किंतु लाखनी पूज्य सिंधी पंचायत की ओर से परंपरा के अनुसार दोपहर 12 बजे तक अपने व्यापार बंद रखकर कार्यक्रम में उपस्थिति दर्ज कराई.