Droplets from mouth, nose in winter will increase the risk of corona infection: Scientist
File Photo

भंडारा (का). जिले में सर्वाधिक कोरोना रोगी मिलने के कारण भंडारा शहर में कोरोना का फैलाव रोकने के लिए जनजागृति के साथ-साथ माझे कुंटुंब, माझी जबाबदारी मुहिम के अंतर्गत हर परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य जांच करने का लक्ष्य रखा गया है. इस योजना को अच्छी तरह से कार्यान्वित करने के लिए नगर परिषद ने 44 पथकों का गठन किया गया है.

नगर परिषद की मुख्याधिकारी मिनल करनवाल ने बताया कि जिले के जितने भी कोरोना प्रभावित मरीज हैं, उनमें सबसे ज्यादा भंडारा तहसील क्षेत्र में हैं, ऐसे में कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या पर कैसे रोक लगायी जाए, यह बात जिला प्रशासन के लिए यक्ष प्रश्न बनी हुई थी. सरकारी महकमें में विभिन्न स्तर पर चर्चा के बाद यह निर्णय लिया गया कि अब घर-घर में जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच करना जरूरी है.

माझे कुटुंब माझी जबाबदारी मुहिम को सफल बनाने के लिए नगर परिषद ने 44 पथक बनाए हैं. हर पथक में एक आशा वर्कर तथा दो सहायकों का समावेश है. इस अभियान को ऐप के माध्यम से संचालित किया जाएगा. अभियान के दौरान परिवार के सदस्यों की जानकारी संकलित की गई.