Corona Impact: UN report claims 10.8 crore workers have become poor due to Corona, 20.5 crore may be unemployed in 2022
Representational Pic

मोहाड़ी. लॉकडाउन के कार्यकाल में नपं निर्माण विभाग की बिना मंजूरी से घर का निर्माण कार्य किए जाने की शिकायत करने के बावजूद भी इस ओर अनदेखी करनेवाले मुख्याधिकारी के साथ निर्माणकार्य की जांच करने की मांग जे. टी. निमजे ने की है.

दूसरे की जमीन पर अतिक्रमण
मोहाड़ी के गांधी वार्ड के खाली प्लाट पर नपं की बिना मंजूरी से लॉकडाउन के कार्यकाल में मकान का निर्माण कार्य शुरू किया गया, किंतु यह निर्माण कार्य करते समय पास स्थित जे. टी. निमजे की पुश्तैनी जगह पर भी अतक्रिमण कर लिया गया. इसकी शिकायत नपं. मुख्याधिकारी आंधले से 30 मार्च को ही की गई थी. इसके पश्चात आज तक निर्माण कार्य की जांच भी नहीं की गई. 

सौंपा निवेदन
निमजे ने वरिष्ठ अधिकारी को सौंपे निवेदन में मांग की है कि निर्माण कार्य की जांच कर अवैध निर्माण कार्य को गिराया जाए. गांधी वार्ड मोहाडी में नपं. भूमापन क्र. 1041 के खाली जगह पर मनीराम नागपुरे ने जगदीश भोरजार द्वारा 69.00 वर्गमीटर जगह 2019 में खरीदी थी. इस जगह पर बिना मंजूरी से निर्माण कार्य किया गया. 15 अप्रैल को दूसरी शिकायत निमजे ने नपं में की, किंतु निर्माणकार्य करने वाले व्यक्ति को अब तक नोटिस भी नहीं भेजा गया. निर्माण कार्य जारी रहने से 18 मई एवं 2 जून को फिर से शिकायत की. बावजूद इसके अभी तक जांच या कार्रवाई नहीं की गई. बार बार शिकायत करने के बाद भी नपं मुख्याधिकारी ने कोई दखल नहीं ली है. 

होगी उचित कार्रवाई : गिरेपुंजे 
नपं उपाध्यक्ष सुनील गिरेपुंजे ने बताया कि संबंधित शिकायत पर तत्कालीन मुख्याधिकारी को जांच कर उचित कार्रवाई करने की सूचना दी गई थी. 

निर्णय लिया जाएगा : पंडागले
मुख्याधिकारी रामेश्वर पंडागले ने कहा कि वे हालही में नियुक्त हुए हैं. इस मामले को जांच कर संबधित व्यक्त पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी.