murder

  • मौके पर ही दम तोड़ा, कुछ दिनों पूर्व ही हुआ था रिहा

भंडारा. जिला मुख्यालय से सिर्फ 10 किमी दूरी पर स्थित गोपेवाड़ा गांव समेत पूरे जिले में उस समय सनसनी फैल गई. जब बूरी तरह से चाकू से गोद चुकी लाश को खेत परिसर से बरामद किया गया. मृतक का नाम सुधाकर ऊर्फ शुद्धोधन रामटेके (48) है. वह शहापुर का निवासी था. गंभीर मामलों में शामिल आरोपी सुधाकर उम्रकैद की सजा काट रहा था. जेल से कोरोना की वजह से कुछ दिनों पूर्व ही रिहा किया गया था. चाकू के ढेरों वार से कर निमर्म हत्या कर दी. घटना के आरोपी व मकसद का पता समाचार लिखे जाने के समय तक नहीं चल सका है. पुलिस ने जांच के लिए कई टीमों को गठन किया है.

कई अपराधिक मामलों में था शामिल

जानकारी के आधार पर टीमों को रवाना किया गया है. सूत्रों की माने तो जल्द ही आरोपी को धर दबोचा जाएगा. गोपेवाडा निवासी  खून, लूटपाट एवं मारपीट जैसे कई अपराधों में शहापुर निवासी सुधाकर ऊर्फ शुद्धोधन रामटेके (48) जेल की सजा काट रहा था. जेल में कोरोना संक्रामक की वजह से उसे रिहा किया गया था. शहापुर अपने गांव में रह रहा था. सुधाकर ऊर्फ शुद्धोधन रामटेके (48) की हत्या की घटना का खुलासा दशहरे के दिन सुबह में हुआ. 

चाकू से उतारा मौत के घाट

शहापुर से 3 किमी दूरी पर गोपेवाड़ा गांव स्थित है. गांव से सटे खेत में चाकू से कई वार से छलनी शव होने की खबर आग की तरह फैली. शव की पहचान सुधाकर ऊर्फ शुद्धोधन रामटेके (48) के रूप में की गई. पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पंचनामा किया. घटनास्थल से कुछ आवश्यक सबूत जुटाए. समाचार लिखे जाने के समय तक ही हत्या के मकसद व आरोपी का पता नहीं चल पाया था. मामले में जवाहनगर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया है. आगे की जांच थानेदार सुभाष बारसे कर रहे हैं.