लापरवाही: इटियाडोह बांध से सिंचाई,  126.03 लाख का पानी टैक्स बकाया, किसानों ने 40 वर्षों से नहीं किया भुगतान

    लाखांदूर. पूर्व विदर्भ के इटियाडोह बांध के तहत पिछले अनेक वर्षों से भंडारा, गोंदिया एवं गड़चिरोली जिलें में सिंचाई सुविधा उपलब्ध की जा रही है. लेकिन  बांध के तहत भंडारा जिले में उपलब्ध सिंचाई सुविधा के तहत पिछले 40 वर्षों से लाभक्षेत्र के किसानों द्वारा पानी टैक्स का भुगतान नहीं किया गया है. भंडारा जिले के लाभक्षेत्र के तहत कुल 126.03 लाख रुपयों का पानी टैक्स बकाया होने की जानकारी दी गई है.

    इटियाडोह प्रकल्प के तहत पानी टैक्स वसूली 

    प्राप्त जानकारी के अनुसार इटियाडोह बांध का निर्माण होते ही सरकार के इटियाडोह प्रकल्प के तहत भंडारा, गोंदिया एवं गड़चिरोली आदि जिलों में नहरों द्वारा खेतों में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई गई है. हालांकि इस सुविधा के तहत लाभ क्षेत्र के कुछ किसानों के खेतों में प्रत्यक्ष नहरों द्वारा पानी उपलब्ध किया जा रहा है. जबकि कुछ किसानों को नहरों पर कृषी बिजली पंप द्वारा पानी की निकासी कर खेतों में पानी उपलब्ध हो रहा है. इस दौरान लाभ क्षेत्र के किसानों से वर्ष में उपलब्ध सिंचाई के आधार पर पिछले 30 वर्षों तक इटियाडोह प्रकल्प के तहत पानी टैक्स वसूला जाता था.

    लाभ क्षेत्र में 4,532 किसान बकायादार 

    इटियाडोह बांध के तहत भंडारा जिले के लाखांदूर तहसील में कुल 4 क्षेत्रों में सिंचाई सुविधा उपलब्ध की जा रही है. लाभ क्षेत्र में वर्ष 1976 से वर्ष 2007 तक इटियाडोह प्रकल्प के तहत 4,532 किसानों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई गई  जिसमें 4,487 किसानों को प्रत्यक्ष नहरों द्वारा जबकि केवल 45 किसानों को बिजली पंप द्वारा नहरों से पानी की निकासी कर सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई गई है. किंतु पिछले वर्ष 1976 से वर्ष 2007 तक लाभ क्षेत्र के किसानों द्वारा लगभग 40 वर्षों से पानी टैक्स का भुगतान नहीं किया गया है.

    3 ब्रांचों में 53 कर्मियों की कमी 

    इटियाडोह बांध प्रकल्प के तहत भंडारा जिलें के लाखांदूर तहसील में 3 ब्रांचों के तहत सिंचाई सुविधा उपलब्ध की जा रही है. इन ब्रांचों में लाखांदूर, बारव्हा एवं वडेगाव आदि ब्रांचों का समावेश है. इस ब्रांचों में किसानों से पानी टैक्स वसूली सहित अन्य सरकारी कार्यों के लिए सरकार द्वारा कुल 63 कर्मियों के पद मंजूर किए गए है. किंतु पिछले कुछ वर्षों से तीनों ब्रांचों के तहत कुल 53 कर्मियों के पद रिक्त होने से पानी टैक्स वसुली में परेशानी होने की जानकारी दी गई है.

    बकाया पानी टैक्स भुगतान करने का आह्वान 

    इटियाडोह प्रकल्प कार्यालय के लाखांदूर तहसील के तीन ब्रांचों में पिछले कुछ वर्षों से कर्मियों की कमी के कारण लगभग 40 वर्षों का 126.03 लाख रुपयों का पानी टैक्स बकाया है. हालांकि पिछले वर्ष 2007 से इस प्रकल्प के तहत तहसील के कुछ गांवों में पानी वापर संस्थाओं का निर्माण किया गया है. इस संस्थाओं के तहत नियमित लाभ क्षेत्र के किसानों से पानी टैक्स वसुला जा रहा है. इस बीच पिछले वर्ष 1976 से वर्ष 2007 तक पानी टैक्स बकायादार किसानों को क्षेत्र के पानी वापर संस्था के तहत पानी टैक्स का भुगतान करने का आह्वान  किया गया है.