Bhandara Janata Curfew
File Photo

पालांदूर. भंडारा जिले में शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में भी कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. मरीजों की बढ़ती संख्या से हर जगह चिंता पैदा हो रही है. नियंत्रणात्मक उपाय के रूप में ग्रापं पालांदूर एवं कवलेवाड़ा के संयुक्त तत्वावधान में हर शनिवार को पालांदूर, कवलेवाड़ा व मेंगापर में जनता कर्फ्यू किया है. ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना बीमारी की ओर अनदेखी की जा रही है.

शहर में होनेवाला कोरोना ग्रामीण क्षेत्र में घर तक पहुंचा है. इस कारण गांव की सार्वजनिक स्वास्थ्य व्यवस्था और संकट में नहीं आए, आम लोगों को कोरोना प्रकोप से दूर रख सकते इस उद्देश्य से ग्रापं पालांदूर व कवलेवाड़ा के संयुक्त तत्वावधान में हर शनिवार को पालांदूर में जनता कर्फ्यू लगाया जाएगा. मास्क का इस्तेमाल करना, फिजिकल डिस्टेंसिंग, बिना कारण भीड़ नहीं करना बंधनकारक है.

मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना
मास्क का इस्तेमाल नहीं करनेवाले लोगों को 500 रुपये का जुर्माना रखा गया है. व्यापारी लोगों के दूकान शुरू व बंद करने का समय सुबह 9 से शाम 7 बजे रहेगा. लापरवाहीं करने पर उस पर 500 रुपये जुर्माना लगाया जाएगा. ग्रापं के नियोजित संयुक्त बैठक में सरपंच रामटेके पालांदूर, सरपंच बडोले कवलेवाडा, उपसरपंच पालांदूर, उपसरपंच कवलेवाडा, ग्राम विकास अधिकारी, ग्रामसेवक, पालांदूर पो. स्टे थानेदार दीपक पाटील, व्यापारी वर्ग, ग्रामपंचायत पदाधिकारी तथा दोनों ही ग्रापं. के सदस्य उपस्थित थे.

नागरिक सहयोग करें : रामटेके
सरपंच पंकज रामटेके ने कहा कि पालांदूर व कवलेवाड़ा दोनों ही गांव के नागरिक व व्यापारियों की ओर से जनता कर्फ्यू को सहयोग करते हुए संक्रमण रोकने सहकार्य करना आवश्यक है.