Patwari Office, Lakhandur, Flood

  • बाढ का पानी घूसने से जरूरी दस्तावेज हुए खराब

लाखांदूर. तहसील में चुलबंद व वैनगंगा नदियों के बाढ़ के पानी ने गांव के पटवारी कार्यालय में प्रवेश करने से कम्प्यूटर सेट के साथ सरकारी रिकार्ड व सामग्री का नुकसान हो गया है. घटना लाखांदूर तहसील के खैरी पट के पटवारी कार्यालय में घटित हुई है. इस घटना की जानकारी पंचनामा कर वरिष्ठों को दी गई है. 

जानकारी अनुसार अगस्त के अंत में लाखांदूर तहसील का खैरी पट गांव पूरी तरह से बाढ़ की चपेट में आ गया था. बाढ़ का पानी गांव के पटवारी साझा क्र. 27 इस कार्यालय में घूसने से कार्यालय के विभिन्न सामग्री के साथ सरकारी रिकार्ड का नुकसान हो गया है. घटना में पटवारी कार्यालय के लैपटाप, प्रिंटर, स्कैनर एवं कम्प्यूटर पूरी तरह से बंद पड़ें हैं. जिससे काफी नुकसान हुआ है.

कार्यालय के टेबल, कुर्सियां, अलमारी के साथ दस्तावेज भी खराब हो गये. ऑनलाइन सातबारा के लिए लगनेवाले मुख्य रिकार्ड की जांच रिपोर्ट, सातबारा, पी 1, पी 3, वर्ष 1918 से मूल रिकार्ड, संशोधन रजिस्टर, वारिस रजिस्टर, 155 का तहसीलदार का आदेश व गांव नमूना 1 से 21 पूरी तरह से नष्ट हो चुके हैं. इस पटवारी साझे में खैरी पट, मांदेड, टेंभरी, डांभेविरली आदि गांव आते हैं. घटना में पटवारी जारवार ने खैरी पट ग्रापं के सरपंच मंगला शेंडे व अन्य पदाधिकारी, ग्रामवासियों की उपस्थिति में पंचनामा कर पटवारी कार्यालय के साहित्य व रिकार्ड के नुकसान के मामले की जानकारी वरिष्ठों को दी.