police
File Photo

भंडारा. दीपावली पर्व पर किसी भी तरह की अप्रिय घटना न हुई इसके लिए पुलिस की ओर से विशेष व्यवस्था की गई थी. दीपावली के लिए अन्य सरकारी कर्मचारियों को अवकाश होने के कारण सभी लोगों ने दीपावली पर्व पर आवकाश लेकर पर्व को बड़ी अच्छी तरह से मनाया. प्रकाश पर्व का आंनद मनाते समय मममानी करने वालों पर नियंत्रण रखने के लिए पुलिस विशेष रुप से चौकस थी. जिले में कहीं भी कानून तथा सुव्यवस्था न बिगड़े  इसके लिए सभी पुलिस थानों को विशेष निर्देश दिए गए थे.

जिला पुलिस दल के 90 प्रतिशत से अधिक कर्मचारी काम पर हैं. हर थाने के पुलिस अधिकारियों तथा कर्मचारियों ने बिना शिकायत किए दीपावली पर्व पर भी अपनी जिम्मेदारियों को पूरा किया. समाज से हर वर्ग की ओर से दीपावली पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. काम के लिए शहर में गए नागरिक दीपावली मनाने के लिए अपने गांव आते हैं.

दीपावली पर्व पर अपने परिजनों से मिलने की उत्सुकता सभी को रहती है. दीपावली के मद्देनज़र घर में तैयार किए गए मिठान्न के साथ-साथ स्वादिष्ट चिवड़ा भी दीपावली पर खूब खाया जाता है. दीपावली पर्व पर छोटे बच्चों तथा युवकों द्वारा की जाने वाली आतिशबाजी के दौरान कोई अप्रिय घटना न हो, इसके लिए पुलिस ने विशेष तौर पर तैनाती की थी.

भीड़ का फायदा उठाकर पॉकेटमारी, चोरी की घटना रोकने के प्रति पुलिस विशेष सर्तकर्ता दिखा रही है. दीपपर्व पर उन पुलिस महिला पुलिस अधिकारियों तथा कर्मचारियों को भी आनंद उठाने का अवसर नहीं मिला, जिनकी डियूटी दीपावली के मौके पर लगी थी. भले ही ये महिलाएं पुलिस थाने में काम करती हैं, उसे घर मे भी काम करना पड़ता है, लेकिन इस बार इन महिला पुलिस को दीपावली का फलाहार बनाने का अवसर ही नहीं मिला.