Problem: 5 feet of water is stored in the bridge near Seoni village, farmers upset due to underpass bridge

    • पानी जमा होने से खेतों पर ट्रैक्टर एवं कृषि सामग्री ले जाना हुआ मुश्किल

    तुमसर. तुमसर- गोंदिया राष्ट्रीय राजमार्ग से कुछ दूरी पर देव्हाड़ी, शिवनी एवं कोष्टी गांवों के किसानों को खेती पर जाने के लिए रेलवे प्रशासन द्वारा निर्माण किए गए अंडरपास पुल के नीचे 5 फिट पानी जमा होने से किसानों को पुल से कृषि सामग्री एवं ट्रैक्टर लेकर जाने में दिक्कतें निर्माण हो रही हैं.

    रेल प्रशासन द्वारा तुमसर रोड- तिरोड़ी रेलवे लाइन पर सिवनी गांव के पास अंडरपास ब्रिज का निर्माण किया गया है. वर्तमान पुल में लगभग 5 फीट पानी जमा है. इस कारण देव्हाड़ी परिसर के 100 किसानों को अंडरपास पुल को पार करने में परेशानी हो रही है.

    रेल प्रशासन कर रहा अनदेखी

    बारिश के दिनों में किसानों को खेत तक पहुंचने के लिए पुल पार करना पड़ता है एवं पुल में पानी जमा होने से खरीफ सीजन के दौरान किसान ट्रैक्टर एवं अन्य उपकरणों के साथ पुल पार नहीं कर सकते हैं.

    ऐसे में किसानों के सामने सवाल है कि खेती कैसे करें संबंधित किसानों द्वारा गत 5 वर्ष से इस ओर ध्यान देने की मांग की जा रही है. मगर रेल प्रशासन द्वारा इस ओर अनदेखी की जा रही है. इससे संतप्त किसानों द्वारा रेल प्रशासन का ध्यान आकर्षित करने के लिए आंदोलन की चेतावनी दी गईं है.  

    बताया जाता है कि अंडरपास ब्रिज से पानी निकालने के लिए जगह नहीं होने के कारण यहां कई दिनों तक पानी जमा रहता है. पुल का निर्माण कार्य करते समय प्रशासन द्वारा पानी निकासी के लिए कोई योजना नहीं बनाई गईं थी. जिसका भुगतान किसानों को भुगतना पड़ रहा है. 

    इस अंडरपास ब्रिज को बनाने में रेल प्रशासन द्वारा लाखों रुपये खर्च किए थे, लेकिन इसका कोई लाभ नहीं हो रहा है. इसी तरह रेलवे के कई अंडरपास पुल में पानी जमा हो जाता है. जिससे महिला, किसान एवं बच्चे अंडरपास पुल को पार नहीं कर सकती हैं.