Wearing a mask while stepping out of the house is no longer mandatory in Israel, know how to win the battle against Corona

भंडारा (का). कोरोना के प्रादुर्भाव के कारण नागरिकों के मन में भय का वातावरण बना हुआ है. मास्क के उपयोग से खुद की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए दूसरों की चिंता करना भी जरूरी है. कोरोना विषाणु से बचने के प्रयास हर किसी की ओर से किया जा रहा है.

बार- बार हाथ धोने, मास्क लगाने तथा सामाजिक दूरी का पालन करने कोरोना से बचने के उपाय किए जा रहे हैं फिर भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों की जिले में संख्या बढ़ने का जौर जारी है.

घर से बाहर निकलते समय. यात्रा करते समय अब ज्यादा से ज्यादा लोग मास्क का उपयोग करते हुए दिखायी दे रहे हैं. कारोना से बचने के लिए छोटे बच्चों से लेकर वरिष्ठ नागरिक सभी की ओर कोशिश की जा रही है. 25 मार्च से लेकर 25 सितबंर के 184 दिनों में जिले में कोरोना का कहर बढ़ा है.

कोरोना पॉजिटिव मरीज की संख्या में नित हो रहे बदलाव तथा इससे मरने वालों की बढती संख्या चिंता बढ़ा रही है. जिले में अब तक रोना को प्रभावित मरीजों की संख्या 4507 हो गई है, इनमें से क्रियाशील मरीजों की संख्या 1576 है, जबकि कोरोना से जिले में अब तक मरने वालों की संख्या 96 हो गई है, जो  शतक से महज 4 कम है, ऐस में सभी को यह मानकर चलना है कि अभी-भी कोरोना का खतरा कम नहीं हुआ है.