Unknown Disease outbreak on moong, farmers again stunned
Representational Pic

पालांदुर. बारिश के आर्द्रा नक्षत्र में ब्रेक लगने से धान की नर्सरी सूखने लगी है. लाखनी तहसील के पालांदुर में रोपाई अटकी होने का चित्र दिखाई दे रहा है. और 2 से 3 दिनों तक बारिश नहीं होने पर किसानों पर दोबारा बुआई का संकट आ सकता है. पालांदुर परिसर के चुलबंद में बड़े पैमाने पर धान की नर्सरी डाली गई.

10 दिनों से बारिश
शुरूआत में बारिश हुई. किंतु पिछले 10 दिनों से बारिश नहीं हो रही है. आर्द्रा नक्षत्र सूखा जाने से किसानों की नजरें आसमान की ओर लगी है. पिछले वर्ष भी आर्द्रा नक्षत्र सूखा ही गया था. इसकी पुनरावृत्ति होने से किसानों की चिंता और बढ़ गई है. अब रविवार से पुनर्वास नक्षत्र की शुरूआत होगी. जिससे सभी इस नक्षत्र की राह देख रहे हैं. 

23,500 हे. में नियोजन
लाखनी तहसील में 23 हजार 500 हेक्टेयर पर धान का नियोजन किया गया है. हालांकि बारिश ने वश्रिांती लेने से रोपाई अटकी है. अब किसान बारिश की प्रतक्षिा में है.