फाइनेंस कंपनियों के जाल में फंसी ग्रामीण जनता

भंडारा. फाइनेंस कंपनियां शहरी तथा ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों के लोगों को अपने जाल में फंसाने का काम कर रही हैं. शहर की तुलना में ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों की ओर इस कंपनियों का ध्यान जरा ज्यादा ही रहता है. फाइनेंस कंपनियां ग्रामीण लोगों की ओर इसलिए ज्यादा आग्रही होते हैं, क्योंकि इन लोगों को वे अपने जाल में बड़ी आसानी से फंसा लेते हैं.

फाइनेंस कंपनियों ने अलग-अलग नाम से अपना जाल ग्रामीण क्षेत्रों में फैला रहे हैं. ये कंपनियां ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए तरह-तरह के प्रलोभन दिखाते हैं. इस प्रलोभनों के कारण ग्रामीण जनता इन कंपनियों के झांसे में आ जाते हैं.