Maratha reservation
File Photo

भंडारा (का). जिले में कोरोना वाइरस प्रकोप दिन ब दिन बढता जा रहा है. कई लोगों को इसका संक्रमण हो रहा है. ऐसे में राज्य में मराठा आरक्षण का मुद्दा जारी है. साथही अतिवृष्टी के कारण मकान एवं फसलों का बडे पैमाने पर नुकसान हुआ है. ऐसी स्थिति में जिले में कानून एवं सुव्यवस्था बनी रहे इसके लिए 16 से 30 सितंबर 2020 तक पूरे भंडारा जिले में धारा 37 को लागू किया गया है. ऐसी जानकारी जिला पुलिस अधीक्षक अरविंद सालवे ने प्रसिद्धी पत्रक द्वारा दी है. धान की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है. उस संबंध में, बाढ़ पीड़ितों एवं किसानों के लिए लाभकारी योजनाओं की घोषणा की जानी चाहिए.

मराठा आरक्षण के मुद्दे को सुलझाया जाना चाहिए आदि विभिन्न मांगों को लेकर राजनितक नेता, मजदूर वर्ग एवं किसानों को साथ में लेकर धरना, मोर्चा, आंदोलन, प्रदर्शन आयोजित कर सकते है. इस कारण स्थानीय कानून एवं सुव्यवस्था का सवाल निर्माण होने की संभावना है. इसलिए पूरे जिले में धारा 37 को लागू किया जा रहा है.