Baithak

  • हर शनिवार व रविवार रहेगा बांद

भंडारा. कोरोना के बढ़ते प्रादुर्भाव को रोकने संक्रमक श्रृंखला को तोड़ना आवश्यक है. इसके लिए शुक्रवार, शनिवार व रविवार यानि 2 से 4 अक्टूबर को पूरे जिले में सख्त जनता कर्फ्यू लागू करने का निर्णय सभी पार्टी की बैठक में लिया गया. पहले 3 दिन व इसके बाद आगे के सूचना तक प्रत्येक शनिवार एवं रविवार को पूरे जिले में सख्त जनता कर्फ्यू रहेगा. सांसद सुनील मेंढे की अध्यक्षता में जिलाधिकारी कार्यालय के सभागृह में सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया गया था.

कोरोना के बढ़ते आंकड़ों से चिंता
जिले में दिन ब दिन कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. नागरिकों की ओर से ध्यान नहीं रखने का दिखाई देता है. इसके साथ ही सरकार की ओर से लगाए गए नियमों का पालन भी नहीं किया जा रहा है. बैठक में चिंता व्यक्त की गई. लक्षण दिखाई देते ही तुरंत जांच करने नागरिकों में जागरूकता करना चाहिए. ऐसे सभी ने अपने विचार रखे. बैठक में जनता कर्फ्यू सख्त एवं पूरे जिले में लागू किया जाना चाहिए. इस दौरान केवल मेडिकल सेवा को छोड़कर सभी दूकानें व प्रतिष्ठान बंद रखने पर सभी दलों ने अपनी सहमति दर्शायी.

इसमें मुख्यता से पेट्रोल पंप, शराब दुकान, ढाबा आदि बंद में समावेश होना चाहिए. बैठक में सब्जी की दूकानों की व्यवस्था को विकेंद्रीकृत करने का भी निर्णय लिया गया. निजी अस्पतालों को कोरोना उपचार के बारे में अस्पताल के सामने सरकारी दर बोर्ड लगाने चाहिए. जिला शल्य चिकित्सक की ओर से इसे लेकर दिए जाने चाहिए. कोविड अस्पताल तुमसर में स्थापित किया गया है. जल्द ही साकोली व पवनी में स्थापित किया जाएगा. विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने अपने विचार व्यक्त किए. लोगों के कर्फ्यू का समर्थन किया. चिकित्सा देखभाल में कुछ सुधारों का भी सुझाव दिया.

सभी मिलकर मुकाबला करें : मेंढे
कोरोना की लड़ाई को लेकर हम सबको एकसाथ आने की जरूरत है. ऐसा आह्वान सांसद सुनील मेंढे ने किया. कोरोना की बढ़ते प्रकोप पर अंकुश लगाने एक जनता कर्फ्यू की आवश्यकता है. 3 दिन व इसके बाद हर शनिवार एवं रविवार को जिलेभर में जनता कर्फ्यू लागू होगा. नागरिकों ने इसके लिए सहयोग करना चाहिए.

और कोई दूसरा विकल्प नहीं : भोंडेकर
जनता कर्फ्यू का निर्णय यह सभी पार्टी का सामूहिक निर्णय है. अभी ऐसे परिस्थिति में इसके अलावा दूसरा विकल्प नहीं. जनता कर्फ्यू के दौरान लोगों ने चिकित्सा कार्यों के अलावा घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. मास्क व सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें. मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी मुहिम के तहत आनेवाले स्वयंसेवकों को सही जानकारी दी जाए. ऐसा आह्वान विधायक नरेंद्र भोंडेकर ने किया.

तुरंत जांच करें : जिलाधीश
फिलहाल मास्क, सुरक्षित दूरी व बार-बार साबुन से हाथ स्वच्छ कराना यही कोराना पर दवा है. बीमारी के लक्षण दिखाई देते ही तुरंत जांच करनी चाहिए. कोरोना से अपनी सुरक्षा करें. ऐसा आह्वान जिलाधिकारी संदीप कदम ने किया.

विधायक नरेंद्र भोंडेकर, जिलाधिकारी संदीप कदम, जिला पुलिस अधीक्षक वसंत जाधव, पूर्व मंत्री नाना पंचबुद्धे, जिला शल्य चिकित्सक डा. प्रमोद खंडाते एवं विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे.