laborers
File Photo

  • 84 हजार 719 मजदूर 49 हजार 112 कामों का नियोजन

लाखनी (सं). तहसील के महाराष्ट्र ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनाअंतर्गत 50 प्रश. ग्रापं स्तर पर कामों का नियोजन किया गया है. वर्ष 2021-22 तक कामों का नियोजन कर प्रत्येक पंजीयनकृत कामगारों के हाथ को काम मिले इसके लिए प्रयास किया जाता है. तहसील में इस वर्ष रोगायो कामों को प्रारंभ हुआ ही नहीं. केवल वैयक्तिक स्तर पर 278 घरकुल का काम शुरू है. घरकुल काम पर 1 हजार 19 मजदूरों के हाथ को काम मिला है. बडी काम कोरोना के प्रादुर्भाव की वजह से बंद है.

कोरोना की दूसरी लहर में रोगायो के काम पूर्णता बंद करने से ग्रीष्मकाल में लोगों को मिलनेवाली मजदूरी इस वर्ष नहीं मिलेगी. 29 मई तक कोरोना पाजिटिव मरीजों की संख्या कम हुई है. इस धरती पर रोगायो के काम शुरू होने के आसार निर्माण हुए है. 

तहसील में 104 गाव है. इसमें राजस्व के गाव 94 है. पंस अंतर्गत समाविष्ट ग्रापं की संख्या 71 है. स्वतंत्र ग्रापं की संख्या 56 है तो गट ग्रापं की संख्या 15 है. तहसील में रोगायो के पंजीयनकृत परिवारों की संख्या 32 हजार 287 है. इसमें 4515 परिवार अनुसूचित जाति के है तो 1742 परिवार अनुसूचित जमाति के है. अन्य पिछडावगीर्य एवं अन्य प्रवर्ग के 25 हजार 82 परिवार है. तहसील में कुल मजदूरों की संख्या 84 हजार 719 है. इसमें महिला मजदूर 43 हजार 314 है तो पुरूष मजदूरों की संख्या 41 हजार 476 है. 

पिछले वर्ष कोरोना संक्रमण एवं लाकडाऊन की वजह से रोगायो के काम मर्यादित प्रमाण में हुए तो इस वर्ष रोगायो कामों को प्रारंभ नहीं होने से अनेक हाथों को काम नहीं मिला. अनेक मजदूर शहर में काम के लिए स्थलांतरीत होते है उनको भी काम नहीं मिला. 

तहसील में रोगायो के नियोजन अनुसार जल संवर्धन अंतर्गत तालाब गहराईकरण, छोटा तालाब खोलीकरण के 271 काम, नहर सरलीकरण 184 काम, पाट दुरूस्ती, नहर का मलबा निकालने 173 काम, सिमेंट बंधारा मलबा निकालने 212 काम मंजूर किए गए है. कृषित्तोर काम में अंगनवाडी निर्माणकाम 38, स्मशान भुमि सपाटीकरण, सौंदर्यीकरण 311 शालाओं के खेल मैदान एवं मैदान सपाटीकरण के 232 कामों का नियोजन किया गया है. 

सामाजिक वनीकरण अंतर्गत 41, वृक्षारोपण 572 एवं फलबाग रोपाई 1538 कामों का नियोजन किया है. वैयक्तिक लाभ के योजना में सिंचाई कुआ निर्माणकाम 1249 काम मंजूर है. भुसुधार की मजगी की काम 3560, पगडंडी सडक 331, नयी सडक 44 कामों का नियोजन किया है. 

केंद्र ने ठहराया अन्य कामों में मुर्गी पालन शेड 901, बकरीपालन शेड 1167, कैटल शेड 3417, शोष गड्ढा 29902, कुआ पुनर्भरण 1355, नैपिड टाकी 735, गांडूल खाद प्रकल्प 375, शौचालय निर्माणकाम 990, मत्स्यपालन टाकी 24, राजीव गांधी भवन 8, घरकुल निर्माणकाम 96, खेत तालाब 215 एवं अन्य कामों में 1451 कामों का नियोजन किया है. 

तहसील में रोगायो द्वारा 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 तक 49 हजार 112 कामों का नियोजन किया है. सदर काम पर 24 हजार 276 लाख रु. का खर्च अपेक्षित है. 

तहसील के पिंपळगाव (सडक), सामेवाडा, पोहरा, केसलवाडा (पवार), किटाडी में टीकाकरण एवं कोरोना जांच शिविर का आयोजन किया गया है. सदर गाव में अगले सप्ताह में रोगायो के काम शुरू होगे इस दृष्टी से तहसील प्रशासन ने तैयारी शुरू की है. ग्रापं एवं ग्रामीणों ने तैयारी दिखाने के पश्चात ही कामों को प्रारंभ किया जाएगा.

-लाखनी पंस के खंडविकास अधिकारी डा. शेखर जाधव

अगले स्पताह से कुछ ग्रापं ने रोगायो के कामों की तैयारी दिखायी है. कोरोना संक्रमणके पार्श्वभुमि पर प्रत्येक गाव में 45 वर्ष के उपर व्यक्तियों के लिए टीकाकरण आवश्यक किया है. एवं प्रत्येक व्यक्ती की कोरोना जांच की जा रही है. 

जो व्यक्ती निगेटिव है एवं उसका टीकाकरण हुआ है ऐसे व्यक्ती को रोगायो के काम पर बुलाया जाएगा. रोगायो के काम पर जाना ऐच्छिक है. ग्रापं एवं ग्रामीणों ने तैयारी दिखाने के पश्चात ही कामों को प्रारंभ किया जाएगा ऐसी जानकारी लाखनी पंस के खंडविकास अधिकारी डा. शेखर जाधव ने दी है.