Crop Damage, Bhandara

लाखांदूर. पिछले अगस्त के अंत में तहसील के वैनगंगा व चुलबंद नदियों में आई बाढ़ से लगभग साढ़े चार हजार हेक्टेयर फसल खेतों को नुकसान पहुंचा है. यह जानकारी कृषि विभाग के तहत प्रत्यक्ष खेती सर्वेक्षण व पंचनामा के आधार पर तहसील कृषि विभाग के तहत दी गई.

35 गांवों पर बाढ़ का कहर
जानकारी अनुसार पिछले अगस्त के अंत में वैनगंगा व चुलबंद नदी को आई बाढ़ के कारण नदी किनारे एवं समीपस्थ कुल 35 गांवों की फसल खेती प्रभावित हुई. इसमें असिंचित व सिंचाई सुविधा होनेवाले फसल खेती का समावेश है. बाढ़ के कारण पीड़ित आपदाग्रस्त किसानों को खेतों में फसल की नुकसान भरपाई मिलने के लिए लाखांदूर तहसील कृषि विभाग के तहत प्रत्यक्ष घटनास्थल पर जाकर फसल खेती का सर्वेक्षण व पंचनामा किया गया.

इस अनुसार तहसील के 35 गांवों की कुल 4 हजार 439 हेक्टेयर क्षेत्र बाढ़ से पीड़ित होकर विभिन्न फसल खेती का नुकसान 33 प्रश से अधिक होने का दिखाई दे रहा है. नुकसान के लिए सरकार की ओर से असिंचित क्षेत्र को प्रति हेक्टेयर 6,800 रुपये व सिंचाई युक्त क्षेत्र को प्रति हेक्टेयर 13 हजार 500 रुपये सरकारी मदद दिये जाने की जानकारी दी है.