Rain in Maharashtra
File Photo : PTI

भंडारा. आए दिन मौसम के बदलाव ने किसानों की धड़कन बढ़ा दी है. पिछले हफ्ते बारिश की मार से किसान उभर भी नहीं पाए है कि गुरुवार को एक बार फिर समूचा भंडारा जिला बादलों से ढक गया. सुबह से मौसम बदरीला रहा. शाम के दौरान लाखांदूर व पवनी तहसील को छोड़ पूरे जिले में बारिश ने हाजिरी लगाई. गनीमत रही की बारिश बूंदांबांदी से मध्यम गति तक ही सीमित रही. भंडारा जिले में धान खरीदी केंद्र शुरू भी नहीं हुए है. किसान धान को खरीदी केंद्र में रखकर तिरपार से ओढ़ कर अपने नंबर का इंतजार कर रहे हैं. वहीं कई स्थानों पर धान काट कर ढेर बनाकर रखा गया है,लेकिन बादल है कि किसान को परेशान करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं.

गुरुवार को सुबह से आसमान में बादलों न हाजिरी लगाई थी. इससे पारा भी मामूली गिरा था. यद्यपि जनजीवन हमेशा की तरह सामान्य था. शाम होते होते बादल गड़गड़ाने लगे.

शहर में 2 घंटे वर्षा

भंडारा में करीब 2 घंटे तक बारिश होती रही. लाखांदूर व पवनी संवाददाता के अनुसार क्षेत्र में बारिश नहीं हुई. मोहाड़ी संवाददाता के अनुसार बूंदाबांदी रही. गोबरवाही क्षेत्र में भी रिमझिम बारिश हुई. तुमसर, साकोली, लाखनी में भी बारिश हुई.

पारा लुढ़का, बढ़ी ठंड

बुधवार तक पारा बढ़ता जा रहा था. वहीं गुरुवार को मौसम में हुए परिवर्तन की वजह से पारे में गिरावट दर्ज की गई. इससे गर्म कपड़ा विक्रेताओं की चिंता थोड़ी कम हुई है, क्योंकि मौसम के गर्म होने की वजह से अब तक वुलन मार्केट में कारोबार लगभग ठंडा चल रहा था. विक्रेताओं को उम्मीद है कि पारे के गिरने से ग्राहकी बढ़ सकेगी.