shop open

भंडारा. कोरोना की वजह से उपजे हालात में दूकानों को बंद करने का समय शाम 5:00 बजे था. इसके अलावा शनिवार और रविवार को जनता कर्फ्यू रखने का सिलसिला शुरू हुआ था, किंतु त्योहारी सीजन को देखते हुए इसमें बदलाव की मांग व्यापारियों ने की थी. सांसद सुनील मेंढे ने व्यापारियों के साथ विस्तृत चर्चा की. इसके बाद सांसद ने जिला प्रशासन के साथ चर्चा की. उन्हें इस बात के लिए राजी किया कि दूकान शाम 7:00 बजे तक शुरू रह सकेंगे.

साथ ही साप्ताहिक अवकाश मंगलवार को रहेगा. जिससे कि व्यापारियों को बैंकिंग व्यवहार व अन्य खरीददारी के लिए पर्याप्त मौका मिल सके. सांसद सुनील मेंढे ने बताया कि अभी त्योहारों का मौसम प्रारंभ हो रहा है. जिससे बाजार में ग्राहकों की भीड़ बढ़ेगी. स्थिति में भीड़ प्रबंधन व व्यापारियों की सुविधा को देखते हुए निर्णय लेना आवश्यक था. सूत्रों के अनुसार उद्योजक तथा समाजसेवी किरीट पटेल ने पिछले कुछ दिनों से सभी व्यापारी संगठनों को एकत्रित लाने के प्रयास आरंभ किया.

किरीट पटेल ने नगर परिषद सीईओ से भी भेंट की. उन्हें भंडारा जिले की व्यापारियों की परेशानियों से अवगत कराया. बैठक में व्यापारियों ने कोरोना वायरस के खिलाफ अपनी प्रतिबद्धता दोहराई विश्वास दिलाया कि व्यापारी समुदाय प्रशासन के साथ में है. दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी व्यापारी आघाड़ी जिलाध्यक्ष मयूर बिसेन वरिष्ठ पदाधिकारियों को मंगलवार साप्ताहिक अवकाश व दूकानों का समय बढ़ाने लगातार राजी करने में लगे थे.

सांसद सुनील मेंढे ने प्रशासन के सम्मुख व्यापारियों को पेश हो रही दिक्कतों को विस्तार से रखा. जिसके पश्चात प्रशासन इस बात पर राजी हो गया है कि दूकान शुरू रखने का समय 7:00 बजे तक रहेगा. व्यापारियों ने दिया सहयोग का भरोसा साप्ताहिक अवकाश मंगलवार को रहेगा. समाचार लिखे जाने के समय आदेश की प्रतीक्षा की जा रही थी. सांसद मेंढे ने प्रशासन को विश्वास दिलाया है कि कोरोना की रोकथाम के लिए व्यापारी समुदाय प्रशासन के साथ पूर्ण रूप से सहयोग करेगा.

जिसमें दूकानों के बाहर नो मास्क नो एंट्री का बोर्ड लगाने, ग्राहकों को मास्क लगाने के पश्चात ही प्रवेश देने, साथ ही हाथों को सैनिटाइज करने व दूकानों की दूकानों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने जैसी अच्छी आदतों का पालन भी शामिल रहेगा. समाचार लिखे जाने के समय तक आदेश जारी नहीं हुआ था. संभवत शीघ्र ही इस संबंध में आदेश भी जारी हो जाएगा.