Police
File Photo

  • गृह मंत्री ने की थी घोषणा

पालांदुर. आगामी दिसंबर माह के अंत तक राज्य में पुलिस के 12,538 पदों की भर्ती किए जाने की घोषणा राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने की है. इतने बड़े पैमाने पर पुलिस भर्ती घोषित होने के कारण एवं इसका कार्यकाल कम होने से पालांदुर एवं परिसर के युवाओं का पुलिस भर्ती की ओर ध्यान लगा है. युवा मैदानी एवं लिखित परीक्षा की तैयारी में जुटे हैं.

बनी है भ्रम की स्थिति
इसके पूर्व नवंबर 2019 में पुलिस सिपाही, पुलिस वाहनचालक एवं राज्य आरक्षित पुलिस दल भर्ती के कुल 5,297 पदों के लिए उम्मीदवारों ने संगणक प्रणाली द्वारा आवेदन भरे हैं. इसमें नये से पदों की वृद्धि होने के कारण एक ओर उम्मीदवार एवं अभिभावकों में आनंद का वातावरण है, तो दूसरी ओर यह भर्ती प्रक्रिया कैसी चलाई जाएगी इस बारे में भ्रम की स्थिति बनी हुई है. भर्ती प्रक्रिया के लिए शुरूआत में मैदानी परीक्षा होगी या लिखित परीक्षा, मैदानी परीक्षा कैसी रहेगी. लिखित परीक्षा कम्प्यूटर द्वारा सीधे होगी या पारंपारिक तरीके से होगी इस बारे में उम्मीदवारों के मन में भ्रम है. होगी लिखित परीक्षा

18 जनवरी 2019 को गृह विभाग द्वारा निकाले गए सरकारी आदेश अनुसार बताया गया कि शुरूआत में 100 गुणों की लिखित परीक्षा ली जाएगी. यह परीक्षा वस्तुनिष्ठ एवं बहुविकल्पीय प्रारूप में आनलाइन होगी. इसमें पात्र होनेवाले 10 योग्य उम्मीदवारों में से एक को मैदानी जांच के लिए बुलाया जाएगा. इसमें मैदानी जांच के लिए 100 अंकों से घटाकर 50 अंक किए गए हैं. इसमें लड़कों के लिए 1600 मीटर दौड़ एवं गोलाफेक एवं लड़कियों के लिए 800 मीटर दौड़, 100 मीटर दौड़ एवं गोलाफेक इन 3 प्रकार का समावेश है.

हुआ था विरोध
इस सरकारी निर्णय को पुलिस भर्ती की तैयारी में जूटे महाराष्ट्र के उम्मीदवारों ने विरोध किया था. उनकी मांग थी कि लिखित परीक्षा यह आफलाइन होनी चाहिए तथा मैदानी जांच 100 अंको की ही होनी चाहिए. उक्त मांगों का निवेदन संबंधित सरकारी अधिकारी को सौंपा गया था. अभी तक भर्ती प्रक्रिया कैसी रहेगी यह स्पष्ट नहीं किया गया है.