खेती में बढ़ा युवकों का रूझान, बेरोजगारी से निपटने लिया निर्णय

    भंडारा . कोरोना के कारण लॉकडाउन की वजह से अनेक युवकों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा. इन युवकों ने अब नौकरी नहीं करके खेती करने का निर्णय लिया है. लॉकडाउन के कारण जिन लोगों ने अपनी फैक्ट्री बंद कर दी है, वे फिर से अपनी फैक्ट्री खोलना नहीं चाहते. कभी युवकों को इस बात का भी भय है कि उन्हें फिर पुरानी कंपनी में काम मिलेगा भी की नहीं.

    युवकों में जबरदस्त निराशा

    कोरोना के कारण उत्पन्न स्थिति के कारण फिर कंपनी में रोजगार मिलेगा की नहीं इसे लेकर युवकों में जबरदस्त निराशा है. इस निराशा के कारण अब गांव के युवकों का रुझान गांव में ही रहकर खेती या कोई छोटा मोटा कामकाज करना चाहते हैं. 

    एक समृद्ध दृश्य सामने आएगा

    पहले ही गांव के युवकों का अपने गांव में ही रहकर खेती करने का मन बनाने से इस बात की पूरी संभावना बन गई है कि आने वाले दिनों में गांव का एक समृद्ध दृश्य सामने आएगा.