जिनिषा जैन: रोजमर्रा के काम को बनाया कमाई जरिया

अक्सर हाउसवाइफ की ज़िंदगी बस किचन और उनके परिवार वालों के इर्द-गिर्द ही टिकी रहती है। उनका पूरा जीवन अपने परिवार वालों के लिए ही समर्पित होता है। सुबह उठो अपने बच्चों और परिवार के लिए खाना बनाओ, फिर दिन भर घर का काम करो और रात में दोबारा खाना बनाओ परिवार को खिलाओ और किचन समेट कर सो जाओ। ये ज़िंदगी ही अक्सर गृहणियां जीती हैं। लेकिन आज हम आपको ऐसी ही एक हाउसवाइफ की कहानी बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपने गृहस्ती वाले काम ‘खाना बनाने’ को ही अपने कमाई का जरिया बना लिया है। 

दिल्ली की रहने वाली हाउसवाइफ जिनिषा जैन ने हाउसवाइफ के लिए एक मिसाल बन गई हैं। जिनिषा खाना बनाने की शौकीन हैं और उनका ये ही शौक आज उन्हें दिल्ली में प्रसिद्ध बना दिया है। जिनिषा के इस शौक को देखते हुए उनकी पड़ोसन ने उन्हें एक टिफिन सेंटर खोलने की सलाह दी थी, जिस सलाह को मानते हुए जिनिषा ‘जायका टिफिन सर्विस’ शुरू की। जो आज पूरे दिल्ली-एनसीआर में मशहूर है। 

जिनिषा हर दिन 100 से ज़्यादा टिफिन के ऑर्डर लेती हैं। वहीं उन्हें हर माह 3 लाख रुपए का मुनाफा भी होता है। टिफिन सेंटर के अलावा जिनिषा केटेरिंग का भी काम कर रही हैं। शहर के बाहर टिफिन सर्विस की डिलिवरी के लिए जोमैटो से उनकी बातचीत चल रही है।  

जिनिश के जायका टिफिन सर्विस का सफर 2018 में शुरू हुआ था। यह सफर सिर्फ एक टिफिन से चालू हुआ था। जिनिषा अपने इस सफर को शुरू करने की वजह बताती हैं कि, एक दिन उनकी पड़ोसन को किसी काम से शहर से बाहर जाना था। लेकिन उसे अपने पति के लिए एक ऐसी टिफिन सर्विसेज चाहिए थी, जो घर बना हुआ हेल्दी खाना दे सके। इस सिलसिले में उनकी पड़ोसन ने जिनिषा से बात की और पूछा कि कोई टिफिन सर्विस देने वाले को जानती हो क्या? तब जिनिषा ने एक पड़ोसन होने के नाते कहा कि “मैं खाना बनाकर दे दिया करूंगी” फिर जिनिषा ने अपनी पड़ोसन के पति को टिफिन भेजना शुरू कर दिया।

जिनिषा बताती हैं कि, जो खाना वह अपनी पड़ोसन के घर भेजा करती थी वह खाना सबको बहुत पसंद आया। जिसकी वजह से उनकी पड़ोसन ने उन्हें एक टिफिन सर्विस शुरू करने की सलाह दी। जिनिषा कहती हैं कि, उस वक्त तक उन्होंने बिज़नेस को लेकर कुछ भी नहीं सोचा था, लेकिन पड़ोसन की सलाह के बाद उन्होंने अपने घर में बात की और फिर शुरू हुआ टिफिन सर्विस का बिज़नेस। 

वह कहती हैं, ‘मैंने यह कारोबार पैसे से ज़्यादा पैशन के लिए शुरू किया है।’ जिसके बाद जिनिषा के इस सर्विस के बारे में धीरे-धीरे कॉम्प्लेक्स में और भी लोगों को पता चला। कुछ माह बाद दूसरे कॉम्प्लेक्स से भी डिमांड आने लगी और उन्हें हर किसी से अच्छा रिस्पॉन्स मिला।

पति और बच्चे करते हैं सपोर्ट-
जिनिषा अपने पति और दो बच्चों के साथ रहती हैं। इस पर वे बताती हैं कि, टिफिन सर्विस को शुरू करने के पहले छह माह तक सब कुछ वह खुद ही करती थीं, बाद में जैसे-जैसे ऑर्डर बढ़ने लगा तो खाना बनाने में उनके पति और बच्चों ने मदद करना शुरू कर दिया। फिर खाना पहुँचाने के लिए जिनिषा ने दो लड़के भी हायर किए हुए हैं।

जायका टिफिन सर्विस-

”जायका टिफिन सर्विस’ के एक प्लेट में दाल, चावल, दो सब्ज़ी, चपाती, रायता, स्वीट्स/हलवा, सलाद और चटनी रहती है। जिसकी कीमत 130 रुपए है। इसके अलावा जिनिषा ब्रेकफास्ट सर्विस भी प्रोवाइड करवाती हैं, जिसके एक टिफिन की कीमत 50 से 70 रुपए है। वह कहती हैं, डेली खाने का मेन्यू वह अपने हिसाब से तय करती हैं। हालांकि, कभी-कभी कस्टमर की तरफ से खास डिमांड रहती है। तब उसके हिसाब से खाना बनता है।

इसके अलावा जिनिषा अपने जायका टिफिन सर्विस की मार्केटिंग सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी करती हैं। जहाँ उन्होंने फेसबुक और इंस्टाग्राम पर अपने एक पेज बना रखा है।जिनिषा के अनुसार, वह अपने खाने की क्वालिटी का ख़ास ख्याल रखती हैं। वह जितना प्यार से पने परिवार के लिए खाना बनाती हैं, उतने ही प्यार से अपने इस टिफिन सेंटर के लिए भी बनती हैं। वहीं आर्डर के हिसाब से ही फ्रेश खाना बनाया जाता है और जिनिषा अपने फ्रेश खाने को ही अपने बढ़ते बिज़नेस का राज़ मानती हैं। इसके अलावा वह अपने हर ग्राहकों से फीडबैक भी लेती हैं, ताकि वह इसे और बेहतर बना सके। 

आसान है टिफिन सर्विस शुरू करना। 

जिनिषा के मुताबिक, एक टिफिन सेंटर शुरू करने के लिए आपको किसी भी तरह के कोई सर्टिफिकेट लेने की ज़रूरत नहीं होती है। क्यूंकि इसे आप अपने घर के किचन से ही शुरू कर सकती हैं। शुरुआत में टिफिन सर्विस के बिज़नेस को शुरू करने के लिए महज 8-10 हज़ार रुपये खर्च करने पड़ते हैं, उसके बाद कुछ महीने बाद ही आपको मुनाफा होने लगता है।  साथ ही आपका यह मुनाफा आपके खाने के क्वालिटी पर भी निर्भर करता है।