Nawazuddin & Brother

मुंबई: एक ओर जहां अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) अलग रह रहीं पत्नी अंजना द्वारा दायर कराए गए दुष्कर्म और धोखाधड़ी के पुलिस शिकायतों का सामना कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर उनके भाई शमास नवाब सिद्दीकी उनके बचाव में सामने आए हैं।

नवाज़ुद्दीन के भाई शमास सिद्दीकी का बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने कहा,”मीडिया में झूठी खबरें फैलाई जा रही हैं और सच जल्द ही सबके सामने आएगा।”

शमास सिद्दीकी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘कोई कैसे कानून को गुमराह कर सकता है? एक ही मामले में दो अलग – अलग बयान कैसे दर्ज करा सकता है। दो साल पहले दर्ज कराए गए मामले में नवाजुद्दीन का नाम नहीं था। ये मामला पहले से ही उत्तराखंड हाईकोर्ट में चल रहा है।’ शमास ने एक दूसरे ट्वीट में लिखा है, ‘मीडिया में झूठी खबरें फैलाई जा रही है और सच जल्द ही सबके सामने आएगा।’ 

 

शमास ने अपने वेरीफाइड ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया, ‘मैं कभी भागा था ही नहीं, मैं अपनी अगली फिल्म की तैयारी कर रहा था और मेरे खिलाफ लगाए गए झूठे आरोपों पर माननीय बॉम्बे हाईकोर्ट ने रोक लगा दी। नवाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ भी लगाए गए आरोप झूठे हैं और हम इसके लिए भी माननीय बीएचसी (बांबे हाई कोर्ट) का रूख करेंगे। उसके साथ ही उन्होंने पोस्ट में हैशटैगसत्यमेवजयते भी टैग किया।

फिल्मकार ने अपने अलग ट्वीट में लिखा, ‘चाहे तो 10-12 झूठे केस कर दो, लेकिन मैं अपना 2।16 करोड़ तुमसे कोर्ट में लेकर ही रहूंगा, परिवार को भी झूठे केस में फंसाया जा रहा है और ये सजा मिल रही है 30 करोड़ की मांग पूरी न करने की।

शेमस का यह ट्वीट उन दिनों की खबरों के बाद सामने आया, जिसमें दावा किया गया था कि नवाजुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी आलिया, जो अब अपने पहले नाम अंजना आनंद किशोर पांडे का इस्तेमाल करती है, ने अभिनेता के खिलाफ बलात्कार और धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए एक लिखित शिकायत दर्ज कराई है।

 

एक रिपोर्ट के अनुसार, अंजना के वकील ने एक आधिकारिक बयान जारी किया है जिसमें लिखा है: ‘मेरी मुवक्किल ने वसोर्वा पुलिस स्टेशन में दुष्कर्म, धोखाधड़ी और धोखे से उन्हें कानूनन शादी का विश्वास दिलाया गया और सहवास का कारण बनाने के लिए भारतीय दंड संहिता की धारा 375, 376 (के), 376 (एन), 420 और 493 के तहत नवाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई है। उम्मीद है कि जल्द ही एफआईआर दर्ज की जाएगी।’