fraud

शेगांव. स्थानीय सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में कार्यरत संतोष कुमार सावणा सहित 6 व्यक्तियों ने मिलकर गबन कर  बैंक के खाताधारक और बैंक की लगभग 1 करोड़ 87 लाख 29 हजार 290 रु. से ठगी किए जाने का आरोप है. इस प्रकरण में शेगांव शहर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. सेंट्रल बैंक अकोला के विभागीय व्यवस्थापक विद्याधर पेंडणेकर ने शेगांव शहर पुलिस थाने में दर्ज की गयी.

फरियाद में बताया कि सेंट्रल बैंक की शेगांव शाखा में 8 अक्टूबर 2013 से 28 नवंबर 2019 तक सहायक व्यवस्थापक संतोषकुमार सावणा (56) निवासी श्रीरामनगर शेगांव को व्यवसाय प्रतिनिधि आनंद फुलकर निवासी पालोदी, तह.शेगांव, रामेश्वर बोरसे निवासी वरखेड, शाखा के विनय देशपांडे, अनिल हेलोडे निवासी खामगांव, उमाकांत दुबे निवासी शेगांव ने सहयोग दिया.

बैंक खाताधारकों की फिक्स डिपॉजिट की फर्जी रसीदें तैयार कर खाते में जमा न करते हुए निकालकर स्वयं के फायदे के लिए रकम का उपयोग किया और ठगी की. पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ अपराध क्र.282/20 धारा 406, 409, 420, 468, 471, 109, 120 ब, भादंवि के तहत मामला दर्ज किया है. मामले की जांच शहर पुलिस स्टेशन के थानेदार संतोष ताले के मार्गदर्शन में हेड कांस्टेबल राजू चौधरी कर रहे हैं.