कोरोना टेस्ट बढ़ाने हेतु समयबध्द कार्यक्रम बनाए-पालकमंत्री डा.राजेंद्र शिंगणे ने दिए निर्देश

बुलढाना. जिले में कोरोना मरीजों की संख्या में कमी दर्ज की गई साथ ही पाजिटिव मरीजों पर उचित उपचार कर उन्हें कोरोनामुक्त किया जा रहा है. यह जिलावासियों के लिए राहत की बात है, किंतु कोरोना टेस्ट की संख्या कम होने से संक्रमितों की संख्या में कमी आने की संभावना हो सकती है. इसलिए कोरोना जांच करना आवश्यक है. आनेवाले समय में प्रतिदिन एक हजार टेस्ट होना आवश्यक है. प्रयोगशाला पूरी क्षमता से शुरू की गई है.

प्रशासन प्रतिदिन एक हजार टेस्ट करने हेतु समयबध्द कार्यक्रम बनाने के निर्देश जिले के पालकमंत्री डा.राजेंद्र शिंगणे ने दिए है. जिलाधिकारी कार्यालय के अंतर्गत पालकमंत्री डा. शिंगणे के कक्ष में कोविड संक्रमन जायजा बैठक के दौरान पालकमंत्री डा.राजेंद्र शिंगणे ने उक्त निर्देश दिए.

इस अवसर पर जिलाधिकारी एस. राममूर्ति, जिला पुलिस अधीक्षक अरविंद चावरिया, जि.प. मुख्य कार्यकारी अधिकारी षण्मुखराजन एस., जिला शल्य चिकित्सक डा.तडस, अति. मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजेश लोखंडे, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा.सांगले, अतिरिक्त जिलाधिकारी प्रमोदसिंह दुबे, निवासी उप जिलाधिकारी दिनेश गीते आदि उपस्थित थे.

जिले के ग्राम स्तरीय स्वास्थ्य यंत्रणाओं को फिर से सक्रिय कर संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए व्यक्तियों की खोज कर उनकी जांच करें, उप जिला अस्पताल, ग्रामीण अस्पताल व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में कोविड जांच की सुविधा उपलब्ध करने हेतु निर्देश भी उन्होंने दिए.