uday samant

    • उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत 

    बुलढाना. कोविड काल में रोजाना हजारों मरीज जिले में पाए जा रहे थे. जिले का रुग्णता ग्राफ लगातार बढ़ रहा था. हालांकि सरकार द्वारा उठाए गए प्रभावी उपायों के कारण हम कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में सफल हो रहे हैं. जानकारों के मुताबिक, कोविड संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका है.

    स्वास्थ्य प्रणाली इस संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिए तैयार है, यह प्रतिपादन उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने प्रकट किए. वे राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे से प्राप्त आठ वेंटिलेटर लोकार्पण कार्यक्रम में बोल रहे थे. कार्यक्रम का आयोजन उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत के हाथों नियोजन भवन समिति सभागृह में किया गया था.

    इनकी रही उपस्थिति

    इस अवसर पर मंच पर पंचायत राज समिति के अध्यक्ष एवं विधायक संजय रायमूलकर, विधायक संजय गायकवाड़, पूर्व विधायक डा.शशिकांत खेडेकर, बुलढाना कृषि उपज बाजार समिति के सभापति जालिंधर बुधवत, जिलाधिकारी एस. रामामूर्ति, जिला पुलिस अधीक्षक अरविंद चावरिया, जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी भाग्यश्री विसपुते, ऋषि जाधव आदि उपस्थित थे. इसी तरह सभागृह में जिला शल्य चिकित्सक डा.नितिन तड़स, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा.बालकृष्ण कांबले, निवासी उप जिलाधिकारी दिनेश गीते आदि सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे. 

    जिला स्वास्थ्य व्यवस्था को वेंटिलेटर उपलब्ध 

    उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने कहा कि शहरों की तरह ग्रामीण क्षेत्रों में भी अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होनी चाहिए. राज्य सरकार इसके लिए जरूरी उपकरण उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है. इसी के तहत पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे जिला स्वास्थ्य व्यवस्था को वेंटिलेटर उपलब्ध करा रहे हैं. स्वास्थ्य प्रणाली, विभिन्न विभागों, संगठनों और नागरिकों के संयुक्त प्रयासों से हम दूसरी लहर को रोकने में सफल रहे हैं. अब तीसरी लहर को रोकने के लिए सचेत प्रयास की जरूरत है.

    इसके लिए विभिन्न स्थानों पर आवश्यक मशीनरी स्थापित की जा रही है. जिले को उच्च गुणवत्ता वाले वेंटिलेटर उपलब्ध कराए जा रहे हैं. इस प्रणाली का उपयोग ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब और जरूरतमंद मरीजों के लिए किया जाना चाहिए, यह निर्देश उन्होंने संबंधित यंत्रणाओं को दिए. उद्घाटन समारोह के बाद मंत्री ने पत्रकारों से भी बातचीत की.