strike

बुलढाना. कोरोना संक्रमन के दौरान स्वास्थ्य यंत्रणा में कार्यरत ठेका कामगारों को सेवा में कायम करे, उन्हें अंशकालिन कर्मचारी घोषीत कर सरकार के विभिन्न विभागों के पद कोरोना कर्मियों के लिए आरक्षित रखने सहित विविध मांगों के लिए शुक्रवार को ठेका कामगारों ने जिलाधिकारी कार्यालय के सामने आंदोलन किया.

जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में कहा गया है कि, राज्य में कोरोना संक्रमन के समय स्वास्थ्य विभाग ने समुचे राज्य में ठेका कर्मियों की भरती की थी. इन कर्मियों ने राज्य के स्वास्थ विभाग में जान जोखम में डालकर मरीजों की सेवा की है. अब ठेका कर्मियों की सेवा समाप्त होने से उन पर जीवनयापन की जटिल समस्या निर्माण हुई है. इसी के चलते सभी ठेका कर्मियों को स्वास्थ्य विभाग के रिक्त पदों पर नियुक्त करे या एनआरएचएम में रोजगार के लिये अवसर प्रदान करने की मांग ज्ञापन में की गयी है.

ज्ञापन सौंपते समय शेख जहीर शेख शब्बीर, पायल मोरे, किरण भांदुर्गे, स्नेहा मोरे, पूजा मुलेकर, पल्लवी जाधव, प्रतीक्षा मोरे, अंजलि चोपडे, स्वाती राठोड़, निकिता वानखेडे, अनिता खरे, सतीश गवली, मयूर अंभोरे, प्रकाश डोंगरे, अक्षय गवली, शेख वसीम, गोपाल सुरोशे, विजय मोरे, अशोक मुंडे, बुद्धभूषण सरकटे, भूषण रावे आदि उपस्थित थे.