पवार का संप्रग के जीतने पर किसान कर्ज माफी, राफेल जांच का वादा

राकां प्रमुख शरद पवार ने कहा कि अप्रैल-मई लोकसभा चुनाव के बाद अगर अगली सरकार संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की बनती है तो वह किसानों का पूर्ण कर्ज

बुलढाणा. राकां प्रमुख शरद पवार ने कहा कि अप्रैल-मई लोकसभा चुनाव के बाद अगर अगली सरकार संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की बनती है तो वह किसानों का पूर्ण कर्ज माफ करेंगे और राफेल लड़ाकू विमान सौदे की विस्तृत जांच करवाएंगे. पवार ने बुलढाणा से राकांपा के लोकसभा उम्मीदवार राजेंद्र शिंगणे के पक्ष में चुनाव प्रचार के दौरान यह बात कही. कांग्रेस राफेल सौदे में भ्रष्टाचार के आरोप लगा रही है जबकि केंद्र इस बात पर कायम है कि सौदे में सभी नियम-कानूनों का ध्यान रखा गया है. पवार ने रैली में कहा कि हम राफेल सौदे की विस्तृत जांच कराएंगे और सच बाहर आने तक चुप नहीं बैठेंगे. कांग्रेस एवं राकांपा की संप्रग के एक बार सत्ता में आने के बाद हम किसानों की समस्या का समाधान करेंगे. पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि हम किसानों का पूरा कर्ज माफ करने के साथ ही 1.5 गुणा ज्यादा न्यूनतम समर्थन मूल्य देंगे. हम महज घोषणाएं नहीं करते हैं. उन्होंने कहा कि संप्रग ने पूर्व (2009) में भी कर्ज माफ किया और कहा कि किसानों से जुड़े किसी मुद्दे पर कोई समझौता नहीं किया जाएगा. पवार ने नरेंद्र मोदी सरकार पर देश के लोकतांत्रिक ढांचे को बर्बाद करने की कोशिश का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि बदलाव सुनिश्चित करने के लिए और मोदी सरकार को हटाने के लिए तैयार हो जाइए. कांग्रेस के महासचिव मुकुल वासनिक रैली में हिस्सा लेने वाले नेताओं में शामिल थे.