पातूर स्मशानभूमि का होगा कायापालट

पातुर. स्थानीय हिंदू स्मशानभूमि देखरेख दुरुस्ती और विकासात्मक कार्य करने की जिम्मेदारी पातुर के अभ्युदय फाउंडेशन इस सेवाभावी संस्था ने ली है. हाल ही में पातुर नगर परिषद ने इस कार्य का पत्र इस

पातुर. स्थानीय हिंदू स्मशानभूमि देखरेख दुरुस्ती और विकासात्मक कार्य करने की जिम्मेदारी पातुर के अभ्युदय फाउंडेशन इस सेवाभावी संस्था ने ली है. हाल ही में पातुर नगर परिषद ने इस कार्य का पत्र इस संस्था को प्रदान किया है जिससे पातुर के हिंदू स्मशानभूमि का कायापालट होगा यह विश्वास व्यक्त किया जा रहा है. पातुर शहर के नागरिकों को अंतिम संस्कार विधी करने के लिए सुविधा उपलब्ध करके देना व विविध विकास कार्य कर स्मशानभूमि का सौंदर्यीकरण करना ऐसे सेवाभावी वृत्ती से पातुर के अभ्युदय फाउंडेशन इस संस्था ने पातुर नगर परिषद कि ओर आवेदन किया था जिससे पातुर नगर परिषद ने ठराव पारित कर हिंदू स्मशानभूमी अभ्युदय फाउंडेशन के सेवाभावी वृत्ती की दखल लेकर नियम के अनुसार प्रक्रिया पूर्ण कर इस हिंदू स्मशानभूमि की देखभाल दुरुस्ती और नियोजन की संपूर्ण जिम्मेदारी अभ्युदय फाउंडेशन इस सेवाभावी संस्था को दी गई है.

इस आशय का अधिकृत पत्र हाल ही में पातुर नगर परिषद ने इस संस्था को प्रदान किया है.

इस वक्त पातु नप की नगराध्यक्ष प्रभा कोथलकर, उपाध्यक्ष राजू उगले, गुटनेता हाजी सै. बुरहान, पार्षद सै. मुजाहिद सै मोहसीन, सचिन सुरवाडे आदि ने अधिकृत पत्र अभ्युदय फाउंडेशन को प्रदान किया. इस अवसर पर अभ्युदय फाउंडेशन के अध्यक्ष गोपाल गाडगे, सचिव गोविंदसिंह गहिलोत, डा. संजय परिहार, दिलीप निमकंडे, प्रशांत बंड, प्रवीण निलखन, डा. मदन नालिंदे आदि ने यह पत्र स्वीकारा. इस बीच अभ्युदय फाउंडेशन कि ओर से नगर परिषद सदस्यों का गोपाल गाडगे ने आभार व्यक्त किया.