किसानों के बैंक खाते में 1.74 करोड़ हुए जमा

लोणार. अक्टूबर व नवम्बर माह में हुई जोरदार बारिश के कारण राज्य समेत जिलेभर के किसानो पर आर्थिक संकट के पहाड टूट पड़ा. बारिश काफी अच्छी हुई थी जिसके कारण किसानों की फसले बहुत अच्छी हुई लेकिन वापसी

लोणार. अक्टूबर व नवम्बर माह में हुई जोरदार बारिश के कारण राज्य समेत जिलेभर के किसानो पर आर्थिक संकट के पहाड टूट पड़ा. बारिश काफी अच्छी हुई थी जिसके कारण किसानों की फसले बहुत अच्छी हुई लेकिन वापसी की बारिश के कारण जिलेभर के किसानों के हाथों से शतप्रतिशत फसल निकल गई. इसी के चलते लोणार तहसील दुसरबीड गांव में राजस्व मंडल द्वारा नुकसानग्रस्त किसानो की खेती का निरीक्षण कर नुकसान भरपाई के रूप में 1 करोड 74 लाख 4 हजार 520 रूपये किसानों के बैंक खातों में जमा किए गए. शासन आदेशानुसार कृषि विभाग व तहसील कार्यालय द्वारा किसानो के खेतो का निरीक्षण किया गया.

वापसी की बारीश के कारण किसानो की फसलें पूरी तरह उद्धवस्त हो गई, साथ ही फलबाग भी प्रभावित हुए. किसानो को नुकसान भरपाई के रूप में प्रति हेक्टेयर 8 हजार व फलबाग प्रति हेक्टेयर 18 हजार रूपये दिए जाने की घोषणा की गई थी, इसी के चलते नुकसान ग्रस्त किसानों के खातों में उक्त रकम जमा की गई. दुसरबीड, जऊलका, पिंपलगांव कुडा, ताडशिवणी, राहेरी खुर्द, बोरखेडी खुर्द, बारलिंगा इन सात गांवों के किसानों के लिए 1 करोड 74 लाख 4 हजार 520 रूपयों का धनादेश सिंदखेडराजा तहसील मार्फत भारतीय स्टेट बैंक के सुपूर्द किया गया.