लोकसभा चुनाव: कर्मियों को मानधन की प्रतीक्षा

बुलढ़ाना. अप्रैल-मई 2019 के दौरान हुए लोकसभा चुनाव के लिए 7 हजार कर्मचारियों का करीब 2 करोड़ रूपये मानधन अब तक कर्मचारियों को अदा नहीं किए गए.सितंबर-अक्टूबर 2019 के दौरान हुए विधान सभा चुनाव हेतु

बुलढ़ाना. अप्रैल-मई 2019 के दौरान हुए लोकसभा चुनाव के लिए 7 हजार कर्मचारियों का करीब 2 करोड़ रूपये मानधन अब तक कर्मचारियों को अदा नहीं किए गए.सितंबर-अक्टूबर 2019 के दौरान हुए विधान सभा चुनाव हेतु नियुक्त किए हुए कर्मचारी में से चिखली व मेहकर विधान सभा चुनाव क्षेत्र के लिए नियुक्त किए हुए कर्मचारियों का मानधन नहीं मिलने से कर्मचारी प्रतीक्षा कर रहे हैं .

2 करोड़ रूपये का मानधन बाकी
लोक सभा और विधान सभा चुनाव के लिए जिले की 13 तहसील के करीब 8 हजार कर्मचारियों की नियुक्ति चुनाव कार्य के लिए कि गई थी. नियुक्त किए हुए कर्मचारियों को मानधन दिया जाता है. लेकिन अब तक कई नियुक्त कर्मचारियों को मानधन नही मिला है. मानधन को लेकर कर्मचारियों में रोष का वातावरण बना हुआ है. दूसरी ओर लोकसभा चुनाव के लिए नियुक्त किए गए राजपत्रित अधिकारियों के 25 लाख 17 हजार 460 रूपये मानधन निकाला गया है. साथ ही जिला स्तर पर कुछ अधिकारी व कर्मचारियों का मानधन निकाले जाने की जानकारी प्राप्त हुई. लेकिन चुनाव हेतु नियुक्त किए गए कर्मचारी, वाहन चालक आदि कर्मचारियों का 2 करोड़ रूपये मानधन अब तक उन्हें नहीं मिला.

विधान सभा चुनाव का सव्वा करोड़ रूपये वितरीत विधान सभा चुनाव हेतु जिले के सात विधानसभा और जिला स्तर पर नियुक्त किए हुए कर्मचारी को 1 करोड़ 15 लाख 86 हजार 883 रूपये मानधन वितरीत किया गया. जिला स्तर पर 15 चालकों को 2 लाख 14 हजार 200, राजपत्रित 39 अधिकारियों को 25 लाख 17 हजार 600 रूपये व वर्ग तीन के 223 कर्मचारियों को 45 लाख 83 हजार 53 रूपये मानधन दिए गए.

निधि के अभाव में कर्मचारी मानधन से वंचित
लोकसभा व विधानसभा चुनाव हेतु नियुक्त अनेक कर्मचारियों को अब तक मानधन की रकम नहीं दी गई है.चुनाव आयोग द्वारा अब तक यह जानकारी निधि संबंधित विभाग को नहीं सौंपी गयी है. जिससे समय पर निधि नहीं मिलने से कर्मचारियों को मानधन की प्रतीक्षा करनी पड़ रही है.चुनाव आयोग द्वारा निधि प्राप्त होंगी तत्काल ही कर्मचारियों में मानधन का वितरण किया जाएगा. यह बात सूत्रों से मिली है.