भारत बंद-मेहकर शतप्रतिशत बंद

मेहकर. केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए सीएए कानून व लागू किए जाने वाले एनआरसी कानून के विरोध में बहुजन क्रांति मोर्चा की ओर से भारत बंद का ऐलान किया था. जिसके तहत बुधवार को मेहकर शहर शतप्रतिशत बंद

मेहकर. केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए सीएए कानून व लागू किए जाने वाले एनआरसी कानून के विरोध में बहुजन क्रांति मोर्चा की ओर से भारत बंद का ऐलान किया था. जिसके तहत बुधवार को मेहकर शहर शतप्रतिशत बंद रहा. बंद का आह्वान करने के लिए सुबह 10 बजे स्थानीय विश्राम गृह से बंद में शामिल सभी सामाजिक व राजनीतिक संगठन की ओर से मोर्चा निकाला गया. मोर्चा जानेफल फाटा, जिजाऊ चौक, पुराना बस स्टैण्ड, डा. बाबासाहब आम्बेडकर वाटिका, मोती मस्जिद चौक, दिवंगत दिलीपराव रहाटे चौक, लोणार वेस से होता हुआ सावजी गल्ली, व्यापारी लाइन, मस्तान चौक, अंजाना चौक से होते हुए स्थानीय स्वतंत्र मैदान पर पहुंचकर मोर्चा जाहिर सभा में रुपांतरित हुआ.

सभा में कांग्रेस के नगर अध्यक्ष हाजी कासम गवली, कांग्रेस विधानसभा नेता एड. अनंत वानखेड़े, भीमशक्ति के कैलास सुखदाने, राष्ट्रवादी कांग्रेस के निसार अन्सारी, एमआइएम के फारुख पठाण, मराठा सेवा संघ के विलास तेजनकर, भटके क्रांति मोर्चा एड. सरदार, विमुक्त जाति संगठन के समाधान गुरहालकर, जमात ए इस्लामी हिंद के रागिब जनाब, जमीयत उलेमा ए हिंद के मौलाना आबिद, एसआईओ के जुबेर खान, प्रा. डी. जी.गायकवाड़, शिवसेना के सैय्यद अख्तर आदि ने अपने विचार व्यक्त किए. संचालन शैलेश बावस्कर ने किया. शांति व अमन के साथ निकाले गये इस मोर्चे में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए थे. इस समय मेहकर पुलिस के थानेदार प्रधान ने तगड़ा पुलिस बंदोबस्त लगया था.