BLO के काम से सेविकाओं का इंकार

मेहकर. शिक्षक वर्ग ने बीएलओ का काम करने के लिए साफ इंकार कर दिया है. इसके बाद कोतवाल व आंगनवाडी सेविकाओं के कंधों पर चुनाव विभाग ने उक्त जिम्मेदारी सौंपी लेकिन सेविका व कोतवाल ने भी बीएलओ का काम करने

मेहकर. शिक्षक वर्ग ने बीएलओ का काम करने के लिए साफ इंकार कर दिया है. इसके बाद कोतवाल व आंगनवाडी सेविकाओं के कंधों पर चुनाव विभाग ने उक्त जिम्मेदारी सौंपी लेकिन सेविका व कोतवाल ने भी बीएलओ का काम करने के लिए इंकार करते हुए प्रशासन को ज्ञापन सौंपा. मेहकर तहसील में बीते कुछ दिनों से चुनाव विभाग द्वारा जांच पड़ताल कार्य शुरू है. 13 नवम्बर से 13 फरवरी तक बीएलओ हायब्रीड के अनुसार जांच पड़ताल कार्य होना चाहिए था.

इस कार्य के लिए मेहकर तहसील के सभी 241 शिक्षकों को बीएलओ के लिए चयन किया गया लेकिन शिक्षकों ने उक्त कार्य करने से इंकार कर दिया जिसके पश्चात 74 निष्क्रीय बीएलओ की जगह पर आंगनवाड़ी सेविका व कोतवालों को नियुक्ति पत्र देकर उनका चयन किया गया व 3 फरवरी को बीएलओ का काम करने हेतु आंगनवाड़ी सेविकाओं को पत्र दिया गया लेकिन संगठन की तहसील अध्यक्ष सुषमा घोडके व अन्य आंगनवाडी सेविकाओं ने वरिष्ठ अधिकारी के पास बीएलओ का काम नहीं करने के लिए ज्ञापन सौंप कर आंगनवाड़ी के अलावा अन्य कोई भी काम न दिए जाने की मांग की. जिसके पश्चात अब बीएलओ का काम कौन करेगा यह बड़ा सवाल चुनाव विभाग के सामने खड़ा हुआ है.