सरकारी कर्मचारियों की हडताल से कामकाज प्रभावित

बुलडाणा (सं.) - सातवे वेतन आयोग की सिफारिशों पर अमल समेत कई विभिन्न मांगों को लेकर राज्य कर्मचारी संगठनों की ओर से तीन दिवसीय हड़ताल का आवाहन किया गया था. इस आवाहन को प्रतिसाद देते हुए बुलढाना जिले

बुलडाणा (सं.) – सातवे वेतन आयोग की सिफारिशों पर अमल समेत कई विभिन्न मांगों को लेकर राज्य कर्मचारी संगठनों की ओर से तीन दिवसीय हड़ताल का आवाहन किया गया था. इस आवाहन को प्रतिसाद देते हुए बुलढाना जिले के करीब 6,500 कर्मचारियों ने हिस्सा लिया. जिससे जिले के सभी सरकारी कार्यालयों में मंगलवार को सन्नाटा छाया हुआ था. हडताल के चलते आम जनता को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा. राज्य जिला परिषद कर्मचारी संगठन समेत स•भी राज्य कर्मचारी संगठनों की ओर से वि•भिन्न मांगों को लेकर हड़ताल का आह्वान किया गया था. इस हडताल के चलते बुलडाणा के जिला परिषद, जिलाधिकारी कार्यालय, तहसील कार्यालय सहित विभिन्न विभागों में सन्नाटा छाया हुआ था.

इस आंदोलन में जिला परिषद कर्मचारी संघटन के जिलाध्यक्ष राजेश वाईनदेशकर, सचिव गजानन गायकवाड, विभागीय संघटक प्रवीण गीते, महासचिव विजय तांदूलकर, राज्य उपाध्यक्ष पी. एम. जाधव, समेत वि•भिन्न कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारी शामिल हुए. बुलढाना मुख्यालय समेत जिले में हड़ताल 100 प्रतिशत तक सफल रही.