प्रहार ने किया अनशन

बुलढाना. तहसील के धाड में लघु व्यावसायिकों समेत नीलेश गुजर पर हुए हमले के मामले में हमलावरों पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रहार जनशक्ति पार्टी की ओर से जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के समक्ष बुधवार से

बुलढाना. तहसील के धाड में लघु व्यावसायिकों समेत नीलेश गुजर पर हुए हमले के मामले में हमलावरों पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रहार जनशक्ति पार्टी की ओर से जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के समक्ष बुधवार से अनशन शुरू है.

इस संदर्भ में पुलिस अधिकारियों को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि, धाड में पिछले तीन दशकों से मनोहर नेमाडे फरसान का व्यवसाय कर रहे है. ऐसे में गांव के ग्रापं सदस्य तथा कुछ हमलावरों ने नेमाडे के साथ मारपीट की. इस विवाद को हल करने के लिए पहुंचे नीलेश गुजर के साथ भी हमलावरों ने मारपीट की. इस मारपीट में नेमाडे तथा नीलेश घायल हो गए.

गुजर की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया, लेकिन विधायक के दबाव के चलते थानेदार संग्राम पाटिल ने उचित कार्रवाई न करते हुए हमलावरों को गिरफ्तार नहीं किया. इसके खिलाफ यह अनशन शुरू किया गया है. प्रहार संगठन के जिलाप्रमुख वैभव मोहिते, उपजिला प्रमुख नीलेश गुजर, संजय उबाले, शिवाजी उबाले, अजय संतापे, आकाश तोटे, स्वराज भगत, सोनु चिवडे,पवन परमेश्वर, शेखर बोराडे जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के समक्ष अनशन कर रहे हैं.