शेगांव नप की खुली पोल

शेगांव. विगत तीन दिनों से हो रही तेज़ बारिश ने शेगांव नगर पालिका की पोल खोल कर रख दी है. हर वर्ष की तरह इस बार भी शहर के नाले तथा छोटी नालियां साफ न करने के कारण उनमें प्लास्टिक एवं कचरा जमा हो गया

शेगांव. विगत तीन दिनों से हो रही तेज़ बारिश ने शेगांव नगर पालिका की पोल खोल कर रख दी है. हर वर्ष की तरह इस बार भी शहर के नाले तथा छोटी नालियां साफ न करने के कारण उनमें प्लास्टिक एवं कचरा जमा हो गया था. बुधवार से हुई मौसम की सब तेज़ बारिश के कारण शहर की सभी नाले, नालियां लबालब भर गए हैं. इनसे निकलने वाला गंदा पानी एवं कचरा सड़क पर आ चुका है. शहर में चहुओर गंदगी की भरमार है. महाराष्ट्र सरकार की योजना तीर्थक्षेत्र विकास प्रारुप के तहत संतनगरी शेगांव को शहर विकास के लिए अभी तक 560 करोड़ के करीब राशि का प्रावधान किया. विकास प्रारुप के काम लगभग पूरे हो चुके है जिसमें सभी प्रकार की मूलभूत सविधाएं शामिल थी.

बारिश रुकने के बाद की सफाई
रेल्वे स्टेशन से गांधी चौक तथा मंदिर तक का यह मुख्य मार्ग है. बारिश रुकने के तुरंत बाद नगर पालिका को होश आया. नप सफाई कर्मियों द्वारा इसकी सफाई की गई. शेगांव शहर को गंदगी एवं कचरे से मुक्त कराने के लिए स्वच्छ भारत अभियान के तहत लाखों रुपयों का प्रावधान किया गया किंतु इतना सब होने के बावजूद हालत यह है की शहर में चहुओर गंदगी की भरमार है. जिस के चलते नागरिकों का स्वास्थ खतरे में है इस ओर ध्यान देने की मांग नागरिकों द्वारा हो रही है.