युवक की हत्या: दम्पति गिरफ्त में

बुलढाना.जलगांव जामोद निवासी युवक की हत्या करने के मामले में स्थानीय अपराध शाखा ने एक दम्पति को गिरफ्तार कर लिया. मामले में कोई भी प्रत्यक्षदर्शी गवाह न होते हुए भी बड़ी ही चतुराई से खोजबीन करने

बुलढाना. जलगांव जामोद निवासी युवक की हत्या करने के मामले में स्थानीय अपराध शाखा ने एक दम्पति को गिरफ्तार कर लिया. मामले में कोई भी प्रत्यक्षदर्शी गवाह न होते हुए भी बड़ी ही चतुराई से खोजबीन करने के बाद आरोपी दम्पति पुलिस के हत्थे चढ़े. पुलिस पटेल ने जलंब पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करायी कि, गांव के नजदीक पूर्णा नदीपात्र में एक युवक का शव पड़ा हुआ है. जानकारी मिलते ही जलंब पुलिस मौके पहुंची और शव को बरामद कर लिया. पोस्टमार्टम से पता चला कि, युवक की मौत गला दबाने से हुई. खोजबीन के बाद पता चला कि, युवक जलगांव जामोद निवासी छोटु उर्फ योगेश उर्फ शंकर एकनाथ सपकाल है. मृतक के पिता शंकर सपकाल की शिकायत पर मामले में धारा 302 तथा 201 के तहत मामला दर्ज किया गया. इस मामले में कोई भी प्रत्यक्षदर्शी गवाह न होने के कारण मामले की जांच काफी पेचीदा हो चुकी थी.

बनाए अलग-अलग दल
ऐसे में जिला पुलिस अधीक्षक डा. दिलीप पाटिल-•भुजबल, अपर पुलिस अधीक्षक श्याम घुगे, संदीप डोईफोडे ने जांच को स्थानीय अपराध शाखा को सौंपा. अपराध शाखा के निरीक्षक महेंद्र देशमुख ने मामले की जांच करने के लिए अलग-अलग दल बनाए. मामले की खोजबीन के लिए बुलढाना के साईबर पुलिस स्टेशन की भी मदद ली गई. कड़ी खोजबीन के बाद पुलिस ने जलगांव जामोद निवासी सुनील रामभाऊ ढगे (उम्र 35) तथा छाया सुनील ढगे (उम्र 30) इस दम्पति को गिरफ्तार कर लिया. उनसे कड़ी पूछताछ करने पर उन्होंने अपराध कबूल कर लिया है.

पुलिस ने बताया कि, मृतक छोटु के आरोपी महिला से संबंध थे. इसी से वह महिला को ब्लैकमेल कर रहा था. इसलिए इस दम्पति ने छोटु को बुलाकर उसकी गला दबाकर हत्या की. बाद में उसके शव को बोरी में भरकर पूर्णा नदीपात्र में फेंक दिया. मामले की जांच महेंद्र देशमुख के मार्गदर्शन में जलंब पुलिस थाने के सहायक पुलिस निरीक्षक सुनील अंबुलकर, संदीप गाढे, पुलिस उपिनरीक्षक मुकुंद देशमुख, पुहेकां सुधीर काले, नापुकां गजानन अहेर, गजानन नागवे, दीपक पवार, पुकां अमोल तरमले, युवराज शिंदे, सुजीत सोनार, गजानन जाधव, मोनिका किलोलिया, सरिता म्हात्रे ने सफलतापूर्वक अंजाम दिया.