सिंचाई विभाग के अधिकारी-कर्मियों ने मास्क लगाकर किया कामकाज

बुलढाना. स्थानीय सिंचाई वि•भाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने बुधवार को मास्क लगाकर अपना दिनभर का सरकारी कामकाज निपटाया. नगरपालिका प्रशासन व्दारा स्वच्छता की ओर होने वाली अनदेखी का निषेध करने के

बुलढाना. स्थानीय सिंचाई वि•भाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने बुधवार को मास्क लगाकर अपना दिनभर का सरकारी कामकाज निपटाया. नगरपालिका प्रशासन व्दारा स्वच्छता की ओर होने वाली अनदेखी का निषेध करने के लिये अधिकारी-कर्मियों ने यह कदम उठाया.

दुर्गंध के कारण उनके स्वास्थ्य को भी खतरा
बुलढाना शहर में पिछले कुछ दिनों से बड़े पैमाने पर जगह-जगह कूड़े का अंबार लगा हुआ है. इस कूड़े के कारण दुर्गंध भी काफी फैल रही है. शहर भर से जमा होने वाला कूड़ा-कचरा टाटा ग्राउंड में नगरपालिका प्रशासन की ओर से जमा किया जा रहा है. इसके समीप ही सिंचाई विभाग का कार्यालय है. इस कारण से यहां काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को दुर्गंध का सामना करना पड़ता है. इस दुर्गंध के कारण उनके स्वास्थ्य को भी खतरा उत्पन्न हो रहा है. इसका निषेध करने के लिए सिंचाई विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने मास्क लगाकर कामकाज किया. साथ ही नगरपालिका प्रशासन को ज्ञापन देकर इस परिसर में कूड़ा जमा न करने की मांग रखी.

ज्ञापन देते समय सिंचाई विभाग के अधिकारी अ. ना. कन्ना, क्षितिजा गायकवाड, अ. सु. चौधरी, तु. अ. काकडे, वि. रा. राजपूत, एन. डी. ढगे, राम हिवाले, दर्शन सरोदे, म. हमीद, टी. बी. तोमर, एस. डी. गवई, पी. सी. टेकाडे, जी. पी. मेतकर, एम. एस. खाडे आदि उपस्थित थे.

नगरपालिका प्रशासन के ढुलमुल रवैये से परेशान
ज्ञात रहे कि, पिछले कुछ दिनों से बुलढाना अर्बन की ओर से शहर सफाई का ठेका रद्द किया गया है, जिसके बाद नगरपालिका की ओर से खुद ही शहर सफाई काम हाथ में लिया गया है. लेकिन नगरपालिका प्रशासन के ढुलमूल रवैये के चलते अभी शहर में जगह-जगह कूड़ा-कचरा पड़ा हुआ है. इस कचरे के चलते लोग काफी परेशान हो रहे है. नगरपालिका प्रशासन इस संदर्भ में जल्द से जल्द पहल करें, ऐसी मांग शहर में हो रही है.