Dengue knock in the district after Corona

खामगांव. शहर में विभिन्न अस्पताल में इलाज करवा रहे लगभग ८१ मरीजों में डेंगू के लक्षण पाये गये. जिससे स्वास्थ विभाग में खलबली मची है. वहीं न.प. प्रशासन भी उपाय योजना करने में जुट गई है. पिछले कुछ

खामगांव. शहर में विभिन्न अस्पताल में इलाज करवा रहे लगभग ८१ मरीजों में डेंगू के लक्षण पाये गये. जिससे स्वास्थ विभाग में खलबली मची है. वहीं न.प. प्रशासन भी उपाय योजना करने में जुट गई है.

पिछले कुछ दिनों से खराब मौसम के कारण वायरल फीवर जैसी बिमारी फैâली है. जिससे आये दिन शहर के अस्पताल मरीजों से खचाखच भर हुये दिखाई दे रहे है. इनमें से कुछ मरीजों के रक्त की शहर के पैथालॉजी में जांच की गयी. जहां विभिन्न में 81 मरीजों में डेंगू के लक्षण पाये गये. इसके अलावा कुछ मरीज अकोला व नागपुर में इलाज करने की जानकारी मिली है.

सरकारी अस्पताल का दावा, 1 भी मरीज नहीं
जहां निजी अस्पतालो में डेंगू के मरीजों का निदान हो रहा है. वहीं सरकारी अस्पताल में डेंगू का एक भी मरीज नहीं होने का दावा सरकारी अस्पताल के सूत्रों से किया जा रहा है. किंतु शहर के निजी अस्पताल में इलाज करने वाले मरीजो में डेंगू की लक्षण पाये जाने पर इन मरीजों की जानकारी लेकर उपाय योजना करने की बात सरकारी अस्पताल के निवासी वैद्यकीय अधिकारी डा.टापरे ने कही है. साथ ही नगर परिषद को शहर में साफ सफाई तथा फॉगिंग मशीन दवाई छिड़कने के बारे में पत्र दिया है.

सिरदर्द होने पर तुरंत डा. को दिखाएं
नागरिक सप्ताह में एक दिन ड्राय डे पालकर घर व परिसर साफ सुधरा रखे. जिसे भी बुखार, सरदर्द की समस्या हो वह तुरंत डाक्टर की सलाह ले ऐसा आह्वान भी डा. निलेश टापरे ने किया है.