डेढ़ हेक्टेयर जमीन पर बनेगा आदिवासी छात्रावास

बुलढाना. आदिवासी छात्र-छात्राएं पढ़ाई के लिए गांव से आकर छात्रावास में रहते हैं. उन्हें अच्छी सुविधा मिल सके इसलिए बुलढाना में छात्रावास के लिए नयी इमारत को मंजूरी मिल गई है. बुलढाना के विधायक

बुलढाना. आदिवासी छात्र-छात्राएं पढ़ाई के लिए गांव से आकर छात्रावास में रहते हैं. उन्हें अच्छी सुविधा मिल सके इसलिए बुलढाना में छात्रावास के लिए नयी इमारत को मंजूरी मिल गई है. बुलढाना के विधायक हर्षवर्धन सपकाल ने इमारत मंजूरी के लिए काफी प्रयास किए थे, जिसके फलस्वरूप अब 20 करोड़ रुपयों की लागत से इस नई इमारत का निर्माण किया जाएगा.

विधायक सपकाल के प्रयासों को मिली सफलता
बुलढाना में 120 आदिवासी विद्यार्थियों के लिए 2007 में छात्रावास मंजूर किया था. आज तक यह दोनों छात्रावास किराये के मकान में चल रहे थे. लेकिन छात्रों को अच्छी सुविधा के लिए छात्रावास के नयी इमारत की मांग हो रही थी. इसके लिए विधायक हर्षवर्धन सपकाल ने विधानसभा में प्रश्न उपस्थित किया था.

इन प्रयासों के चलते अब नई इमारत को मंजूरी मिल गयी है. 2018 के बजट अधिवेशन में अदिवासी विकास मंत्री विष्णु सावरा ने छात्रावास को मान्यता दी. इस छात्रावास के लिए कोलवड के खेत सर्वे नंबर 469 में डेढ़ हेक्टेयर की जमीन उपलब्ध हो गयी है, जिससे इस छात्रावास के निर्माण का रास्ता पूरी तरह से खुल गया है.